संजय राउत के बयान पर कांग्रेस की आपत्ति, कहा- इंदिराजी पर की गई टिप्पणी वापस लें

Last Updated: गुरुवार, 16 जनवरी 2020 (14:43 IST)
मुंबई। शिवसेना के सांसद ने एक इंटरव्यू में बुधवार को दावा किया था कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी मुंबई में पुराने डॉन करीम लाला से मिली थीं तथा वे (अंडरवर्ल्ड) यह तय करते थे कि मुंबई का पुलिस आयुक्त कौन बनेगा। हाजी मस्तान के मंत्रालय में आने पर पूरा मंत्रालय उसे देखने के लिए नीचे आता था। राउत ने दावा किया कि इंदिरा गांधी पाइधोनी (दक्षिण मुंबई में) करीम लाला से मिलने आती थीं।
राउत की इस टिप्पणी पर नेता मिलिंद देवड़ा ने आपत्ति जताते कहा कि कहा कि राउत अपना बयान वापस लें, क्योंकि इंदिराजी एक सच्ची देशभक्त थीं। उन्होंने संजय निरुपम को मिस्टर शायर बताया।

कांग्रेस की आपत्ति पर राउत बोले कि मैंने हमेशा इंदिरा गांधी, पंडित नेहरू, राजीव गांधी और गांधी परिवार के प्रति जो सम्मान जताया, वह विपक्ष में होने के बावजूद किसी ने जताया। राउत ने कहा कि जब भी इंदिरा गांधी पर निशाना साधा गया, मैं उनके लिए खड़ा रहा हूं। करीम लाला से सभी नेता मुलाकात करते थे।
उन्होंने मुंबई में अंडरवर्ल्ड के दिन याद करते हुए कहा कि दाऊद इब्राहीम, छोटा शकील और शरद शेट्टी जैसे गैंगस्टरों का महानगर और आस-पास के क्षेत्रों पर नियंत्रण था और वे अंडरवर्ल्ड के दिन थे तथा बाद में हर कोई (डॉन) देश छोड़कर भाग गया।



और भी पढ़ें :