मैं पलट के आऊंगी, आखिर क्या संकेत दे रही हैं अमृता फडणवीस

Amruta fadanvis
Last Updated: गुरुवार, 28 नवंबर 2019 (13:47 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई। एक बैंकर, एक गायक की हैसियत और एक सोशल वर्कर की हैसियत मीडिया की सुर्खियों में रहने वालीं का एक ट्‍वीट चर्चा में है, जो उन्होंने अपने पति और के पूर्व मुख्‍यमंत्री के इस्तीफे के बाद किया है।

दरअसल, अमृता ने अपनी बात सीधे न कहकर एक शेर के माध्यम से कही है। उन्होंने ट्‍वीट किया है- 'पलट के आऊंगी शाखों पे खुशबुएं लेकर, खिज़ां की ज़द में हूं मौसम ज़रा बदलने दे। राजनीतिक संदर्भ में देखें और कर्नाटक के घटनाक्रम से इसे जोड़कर देखें तो अमृता को एक बार फिर देवेन्द्र के मुख्‍यमंत्री के रूप में वापस लौटने की उम्मीद है।
खिजां (पतझड़) की जद में हूं अर्थात अभी हालात अनुकूल नहीं हैं। जैसे ही हालात बदलेंगे हम एक बार फिर वापसी करेंगे। उन्होंने अपने यादगार 5 सालों के लिए महाराष्ट्र की जनता को शुक्रिया भी कहा है। उन्होंने कहा कि मैंने पूरी क्षमताओं के साथ अपनी भूमिका निभाने की कोशिश की।
Amruta fadanvis
उल्लेखनीय है कि देवेन्द्र फडणवीस अपनी दूसरी पारी में मात्र 80 घंटे ही मुख्‍यमंत्री रह पाए। बहुमत की जुगाड़ नहीं होने के कारण उन्हें पद से इस्तीफा देना पड़ा। राजनीति के जानकार अमृता के ट्‍वीट को कर्नाटक से जोड़कर देख रहे हैं। जब 72 घंटे मुख्‍यमंत्री रहने के बाद बहुमत नहीं होने के चलते वीएस येदियुरप्पा को इस्तीफा देना पड़ा था, लेकिन कुछ समय बाद जदएस-कांग्रेस की सरकार गिर गई और मुख्यमंत्री की कुर्सी फिर से येदियुरप्पा को मिल गई।

हालांकि ट्‍विटर पर संदीप नामक एक व्यक्ति ने कटाक्ष किया कि वहिनी मैं आपके लिए बहुत दुखी हूं। आप स्टेज शो नहीं कर पाएंगी और पार्टियां भी अटेंड नहीं कर पाएंगी। पल्लवी ने लिखा कि वहिनी आप जल्दी ही वापस आओगी। रितु ने लिखा चिंता न करें, आप फिर से वापसी करेंगे।


पंडित राकेश शर्मा नामक ट्‍विटर हैंडल से लिखा गया- शाबाश!! आपके जज्बे को प्रणाम, हम आपके साथ हैं और उस पल का हमें भी बेसब्री से इंतजार रहेगा। बहुत खुशनसीब हैं देवेन्द्र फडणवीस भाई, जिनको आप जैसी जीवनसंगिनी मिली। मुकेश यादव ने लिखा- जिसने संविधान में विश्वास नहीं किय, कोर्ट ने उसे वापसी का टिकट दे दिया।



और भी पढ़ें :