क्‍या है ट्व‍िटर ट्रेंड्स और कैसे होते हैं सेट, जानिए क्‍या है ट्व‍िटर की गाइडलाइंस?

नवीन रांगियाल| Last Updated: शुक्रवार, 12 फ़रवरी 2021 (15:30 IST)
आए दिन ट्वि‍टर पर कई तरह के ट्रेंड्स चलते रहते हैं, इन ट्रेंड्स पर आज गौर से नजर डालेंगे तो पता चलेगा कुछ ऐसे होते हैं जिन्‍हें देखकर यकीन नहीं होता कि ट्विटर जैसे सोशल मीडि‍या प्‍लेटफॉर्म पर ऐसे ट्रेंड्स कैसे चल सकते हैं।

मसलन, हैशटैग फेकू, हैशटैग पप्‍पू, हैशटैग तेरा बाप आएगा, हैशटैग पप्‍पू संसद छोडकर भागा, हैशटैग भाभी आदि। आप अगर लगातार इन पर नजर बनाए रखेंगे तो पता चलेगा कि आए दिन बेहद अजीब ट्रेंड्स चलन में होते हैं। इन ट्रेंड्स से अफवाह भी फैलती है और फेक न्‍यूज को भी हवा मिलती है।

हाल ही में ट्व‍िटर ने करीब 250 ट्व‍िटर अकांउट को सस्‍पेंड करने की बात की थी। अभी भी सरकार और ट्वि‍टर के बीच गतिरोध चल रहा है। इसी बीच कू नाम के सोशल मीडि‍या प्‍लेटफॉर्म की एंट्री की भी खूब चर्चा हो रही है।

ऐसे में यह जानना जरूरी है कि आखि‍र ये ट्रेंड्स क्‍या होते हैं और कैसे चलाए जाते हैं।

ट्विटर ट्रेंड्स एक तरह से कई तरह के मुद्दों और विषयों का एक तरह का पैरामीटर है। जो कुछ भी ट्विटर पर कहा, पढ़ा जा रहा है, ये उसका पैमाना कहा जा सकता है।

ट्रेंड्स के रोल बहुत महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि ये बताते हैं कि कौन से मुद्दे, लोग या जगह चर्चा में हैं।

इसलिए जब कहा जाता है कि मोदी या राहुल गांधी ट्रेंड कर रहे हैं तो इसका मतलब होता है कि इनके बारे में सोशल मीडि‍या में चर्चाएं ज़्यादा हो रही है।

ट्विटर ट्रेंड में उलटफेर करना आसान है, ये इस बात पर निर्भर करता है कि कितने लोग किसी हैशटैग का प्रयोग करते हैं।

हालांकि ट्रेंड सेट करना कोई आसान काम नहीं है, कोई अकेला यूजर इसे सेट करेगा तो यह काफी मुश्‍किल है, लेकिन किसी समूह के तौर पर इसे करना ज़्यादा आसान है।

अगर कोई ग्रुप ट्रेंड सेट करता है तो यह बहुत जल्‍दी हो सकता है, जैसे उदाहरण के तौर पर एक पक्ष लिखेगा पप्पू और दूसरा लिखेगा फेकू और फिर इसे समर्थकों के बीच फैला दिया जाएगा।

इस तरह से ये हैशटैग तीन-चार लोगों के गुट से निकलकर कई ग्रुप्‍स में चला जाएगा और इसके बाद यह आम जनता तक पहुंच जाएगा। अब कितने ज्‍यादा लोग या यूजर्स कि‍स हैशटैग्‍स का इस्‍तेमाल करते हैं उसी के आधार पर ट्रेंड सेट हो जाता है। जितने लोग उपरोक्त हैशटैग का प्रयोग करेंगे उतना ही ऊपर ट्रेंड दिखेगा।

लेकिन ये ट्विटर के नियमों का उल्लंघन है, क्योंकि आप किसी एक विषय के ट्वीट पर किसी अन्य विषय के हैशटैग केवल ट्रेंड बनाने के लिए नहीं लगा सकते। इसलिए ट्व‍िटर की गाइडलाइंस भी है, लेकिन कोई उसे फॉलो नहीं करता।

ट्विटर गाइडलाइंस के अनुसार अपने ट्वीट के साथ विषय से संबंधित हैशटैग शब्द या वाक्य जोड़कर पोस्ट किया जाना चाहिए।

ऐसा हो सकता है कि कई लोग एक साथ किसी चर्चित हैशटैग पर पोस्ट कर रहे हों और आपको कॉमन फीड में आपकी पोस्ट न दिखे। हालांकि वो हमेशा आपके अपने प्रोफ़ाइल फीड में मौजूद रहता है।

ट्विटर ट्रेंड के साथ छेड़छाड़ संभव है, लेकिन ऐसा करते हुए पाए जाने पर संबंधित अकाउंट सर्च से हटाया जा सकता है या फिर उस अकाउंट को रद्द भी किया जा सकता है।

ट्विटर पर क्या करना मना है
किसी ट्वीट में ऐसा हैशटैग डालना जिसका उसके विषय से कोई लेना देना ही न हो।
सर्च में ऊपर दिखने के लिए बार-बार ट्वीट करना।
ट्रेंड सेट करने के लिए हैशटैग लगाकर बार-बार एक ही ट्वीट कॉपी-पेस्ट करते रहना।



और भी पढ़ें :