रिवर्स वॉटरफॉल : महाराष्ट्र के नानेघाट झरने का पानी उल्टा बहता है , जानिए कैसे होता है चमत्कार


प्रकृति अपनी अनेक रोचक रचनाओं से भरी पड़ी हुई है। यह रचनाएं ऐसी है कि कुछ क्षण के लिए हमें सोचने को मजबूर कर देती है। बारिश के मौसम में तो अनेक ऐसे स्थान प्रकट हो जाते हैं। इन्हीं में से एक स्थान है में स्थित पर बहता उल्टा झरना। यह झरना दूसरे झरनों से इसलिए अलग है क्योंकि इसका पानी नीचे नहीं गिरता बल्कि ऊपर हवा में उठ जाता है। प्रकृति के इस नजारे का आनंद लेने दूर-दूर से लोग आते हैं।
क्या है इस उलटे झरने का वैज्ञानिक कारण
अक्सर ऐसी हैरत में डाल देने वाली चीजों को देखकर हम उसे चमत्कार या जादू समझने लगते हैं , पर हर किसी चीज के पीछे कुछ न कुछ वैज्ञानिक कारण तो होता ही है। इस झरने के पीछे का कारण है कि जैसा हमें मालूम है की ऊंचाई पर हवा तेज चलती है , यहां इस पहाड़ से टकराकर हवा ऊपर की और उठ जाता है। जब हवा का ऊपर की ओर लगने वाला बल के बराबर या अधिक हो जाता है तो पानी ऊपर की ओर उठ जाता है।



और भी पढ़ें :