Live Updates : राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के खिलाफ मुकदमा दर्ज, UP पुलिस ने IPC के तहत कई धाराएं लगाईं

हाथरस में हैवानियत की शिकार लड़की के परिजनों से मिलने के निकले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को पुलिस ने यमुना एक्सप्रेस वे पर हिरासत में ले लिया। इसके बाद दोनों को वापस दिल्ली का रुख करना पड़ा।
 
 राहुल गांधी अपार्टी महासचिव प्रियंका के साथ काफिले के रूप में हाथरस के लिए निकले थे लेकिन ग्रेटर नोएडा में उनका रास्ता पुलिस ने रोक दिया और हाथरस जिले में निषेधाज्ञा का हवाला देते हुए वापस लौट जाने को कहा लेकिन दोनों नेता पुलिस की अपील की अनसुना करते हुए चिलचिलाती धूप में समर्थकों के साथ यमुना एक्सप्रेस वे पर पैदल ही चल दिए। 
 
अभी वे दो-तीन किमी ही चले थे कि पुलिस ने एक बार फिर उनका रास्ता रोक लिया और वापस जाने की अपील की। पैदल मार्च को लेकर कांग्रेसी नेताओं की पुलिस से नोकझोंक हुई। इस दौरान राहुल गांधी धक्का-मुक्की के दौरान लड़खड़ा गए। बाद में पुलिस राहुल प्रियंका को ग्रेटर नोएडा के एक गेस्ट हाउस में ले गई, जहां देर शाम दोनों को रिहा कर दिया गया।
 
 
Last Updated: शुक्रवार, 2 अक्टूबर 2020 (00:16 IST)
हाथरस में हैवानियत की शिकार लड़की के परिजनों से मिलने के निकले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को पुलिस ने यमुना एक्सप्रेस वे पर हिरासत में ले लिया। इसके बाद दोनों को वापस दिल्ली का रुख करना पड़ा।
 
 राहुल गांधी अपार्टी महासचिव प्रियंका के साथ काफिले के रूप में हाथरस के लिए निकले थे लेकिन ग्रेटर नोएडा में उनका रास्ता पुलिस ने रोक दिया और हाथरस जिले में निषेधाज्ञा का हवाला देते हुए वापस लौट जाने को कहा लेकिन दोनों नेता पुलिस की अपील की अनसुना करते हुए चिलचिलाती धूप में समर्थकों के साथ यमुना एक्सप्रेस वे पर पैदल ही चल दिए। 
 
अभी वे दो-तीन किमी ही चले थे कि पुलिस ने एक बार फिर उनका रास्ता रोक लिया और वापस जाने की अपील की। पैदल मार्च को लेकर कांग्रेसी नेताओं की पुलिस से नोकझोंक हुई। इस दौरान राहुल गांधी धक्का-मुक्की के दौरान लड़खड़ा गए। बाद में पुलिस राहुल प्रियंका को ग्रेटर नोएडा के एक गेस्ट हाउस में ले गई, जहां देर शाम दोनों को रिहा कर दिया गया।
 
 

12:16AM, 2nd Oct
कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस के 203 नेताओं के खिलाफ उत्तरप्रदेश के इकोटेक1 थाने में FIR दर्ज की गई है। सभी नेताओं के खिलाफ 144 के उल्लंघन, 188, 269, 270 IPC एक्ट और महामारी की 3 व 4 धारा के तहत केस दर्ज किया गया है।
07:18PM, 1st Oct
कांग्रेस ने अपनी सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों से कहा कि वे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाद्रा को उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा ‘गिरफ्तार किए जाने’ के विरोध में प्रदर्शन करें। पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने ट्वीट कर दावा किया कि न्याय की मांगने और हाथरस की पीड़िता के परिवार से मिलने का प्रयास करने के लिए उत्तरप्रदेश की डरपोक सरकार ने राहुल गांधीजी और प्रियंका गांधीजी को गिरफ्तार किया। उन्होंने कहा कि मैं सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों और कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे राहुलजी, प्रियंकाजी और दूसरे नेताओं की गिरफ्तारी के खिलाफ प्रदर्शन करें।
04:47PM, 1st Oct
-हाथरस जाने के दौरान हिरासत में लिए गए कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, अधीर रंजन चौधरी, केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला को नोएडा के बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर लेकर जाया गया।
-यूपी के एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा- हाथरस मामले की पीड़िता के साथ बलात्कार या सामूहिक बलात्कार जैसी कोई घटना नहीं हुई। हाथरस मामले में लड़की की मौत गर्दन में चोट लगने और मानसिक आघात के कारण हुई। उन्होंने कहा- सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने और जातीय हिंसा भड़काने के लिए कुछ लोग तथ्यों को गलत तरीके से पेश कर रहे हैं।
03:43PM, 1st Oct
-राहुल और प्रियंका पुलिस जीप में बैठाकर ले जाने का प्रयास।
-पुलिस की जीप को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने घेरा।
 
03:10PM, 1st Oct
-पुलिस की धक्का-मुक्की से नाराज राहुल गांधी धरने पर बैठ गए थे, जिसके बाद पुलिस ने राहुल गांधी को हिरासत में लिया। हालांकि इस दौरान राहुल गांधी पूछते रहे कि हमने कौन-सा कानून तोड़ा है।
-पैदल ही हाथरस जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि पुलिस ने मुझे धक्का दिया। मुझे लाठी मारकर नीचे गिरा दिया। मैं पूछना चाहता हूं कि क्या इस देश में सिर्फ मोदी जी चल सकते हैं? एक आम आदमी पैदल नहीं चल सकता है क्या?
-मीडिया से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि थोड़ा-सा धक्का लग गया था, हो जाता है ऐसा, कोई बड़ी बात नहीं है।
-कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि हिन्दू धर्म की बात करने वाले लोगों ने पिता को बेटी की चिता भी नहीं जलाने दी। 
02:54PM, 1st Oct
-कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा- कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठी चलाई जा रही है। राहुल गांधी को लाठी से पीटा गया।
-कांग्रेस नेता अजय सिंह लल्लू ने कहा कि राहुल के हाथ में चोट आई। 
-पुलिस ने राहुल और प्रियंका को आगे जाने से रोका।
 
02:34PM, 1st Oct
-पैदल जा रहे राहुल गांधी से पुलिस ने धक्का-मुक्की की।
-राहुल ने कहा कि पुलिस ने मुझे धक्का मारकर गिराया। क्या इस देश में केवल मोदीजी ही पैदल चल सकते हैं?
02:13PM, 1st Oct
-प्रियंका और राहुल हाथरस कांड के पीड़ित परिवार से मुलाकात करने जा रहे थे। रास्ते में ग्रेटर नोएडा पुलिस ने उनके काफिले को परी चौक इलाके में रोक लिया।
-उन्होंने बताया कि यमुना एक्सप्रेस वे पर रोके जाने के बाद प्रियंका और राहुल पैदल ही हाथरस के लिये रवाना हो गए। जहां उन्हें रोका गया था, वहां से हाथरस की दूरी 142 किलोमीटर है।
02:06PM, 1st Oct
-प्रियंका गांधी ने कहा कि गाड़ियों को रोका तो पैदल जाएंगे। पिता को बेटी का अंतिम संस्कार नहीं करने दिया गया। सरकार ने अन्याय किया है। 
-प्रियंका ने कहा- रोज हादसे हो रहे हैं सरकार कुछ नहीं कर रही है। यूपी में महिलाओं के साथ अत्याचार हो रहे हैं।
01:58PM, 1st Oct
-हैवानियत की शिकार हो दम तोड़ देने वाली हाथरस की दलित युवती का पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है। चौंकाने वाली बात यह है कि इस रिपोर्ट में युवती से रेप की पुष्टि नहीं की गई है। स्वाभाविक है कि इसका सीधा फायदा आरोपियों को होगा।
-युवती ने दम तोड़ने से पहले पुलिस के सामने जो बयान दिया उसके आधार पर दर्ज एफआईआर में आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप की धारा लगाई तो गई है, लेकिन अब पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि नहीं होने से कोर्ट में आरोपियों को बढ़त मिलने की आशंका है।
-पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह गले की हड्डी टूटना बताई गई है।
01:52PM, 1st Oct
-राहुल और प्रियंका का काफिला रोका, पैदल ही रवाना हुए।
01:40PM, 1st Oct

-राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का काफिला यमुना एक्सप्रेस वे पर रोका गया। सिर्फ प्रियंका और राहुल को ही आगे जाने की इजाजत दी गई।
-राहुल और प्रियंका गांधी पैदल ही रवाना हुए। 
01:12PM, 1st Oct
-योगी सरकार में मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह का विपक्ष पर पलटवार, राहुल और प्रियंका को राजस्थान जाना चाहिए।
-उन्होंने कहा कि SP, BsP राजनीति कर रहे हैं। मायावती के कार्यकाल में 1 हजार दलितों की हत्या।
12:51PM, 1st Oct
-डीएनडी पहुंचा राहुल और प्रियंका का काफिला
-डीएनडी पर लगा लंबा जाम, कांग्रेस कार्यकर्ताओं का जमकर हंगामा।
 
12:35PM, 1st Oct
-हाथरस में सपा कार्यकर्ताओं ने जमीन पर लेटकर प्रदर्शन किया।
-डीएनडी पर बड़ी संख्‍या में कांग्रेस कार्यकर्ता पहुंचे।
12:35PM, 1st Oct
-अलीगढ़ स्थित जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल के प्राचार्य ने कहा है कि वह नहीं बता सकते कि उनके चिकित्सालय द्वारा दिल्ली स्थित एम्स के लिए रेफर किए जाने के बावजूद हाथरस सामूहिक बलात्कार कांड की पीड़िता को सफदरजंग अस्पताल में क्यों भर्ती कराया गया।
12:23PM, 1st Oct
-राहुल गांधी और प्रियंका गांधी हाथरस के लिए रवाना।
-पुलिस प्रशासन सतर्क, कहा-जिले की शांति व्यवस्था से किसी भी दल या व्यक्ति को खेलने नही दिया जायेगा। -सीमा पर पुलिस बल बड़ा दिया गया है, यदि कोई वी आई पी क्षेत्र में आने की कोशिश करेगा तो पहले उसे समझाया जायेगा। यदि वह नहीं मानता है तो कानूनी कार्रवाई की जायेगी।
-हाथरस पुलिस-प्रशासन ने बीते कल के हंगामे के बाद ये एक्शन लिया है।
-दलितों ने सड़कों पर उतर कर हंगामा बरपाया था, जिसके चलते पुलिस को भी बल प्रयोग करना पड़ा। इस हंगामे की गूंज देशभर में सुनाई दी।

11:31AM, 1st Oct
ALSO READ: हाथरस मामला : पीड़िता के घर जांच के लिए पहुंची SIT, परिवार ने सुनाई आपबीती
-राहुल और प्रियंका कुछ ही देर में हाथरस में पीड़ित परिवार से मुलाकात के लिए रवाना हो सकते हैं।
-पुलिस प्रशासन अलर्ट, राहुल और प्रियंका को सीमा पर रोकने की तैयारी। दोनों को डीएनडी पर ही रोका जा सकता है।
-हाथरस धारा 144 लगा दी गई है।
-बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि हाथरस और बलरामपुर की घटना इस बात की पुष्टि है कि यूपी में कानून का राज नहीं है। गुंडों को खुली छूट मिल गई है।
11:31AM, 1st Oct
-कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश में हाथरस के बाद बलरामपुर में सामूहिक बलात्कार की घटना होने को लेकर गुरुवार को प्रदेश सरकार पर निशाना साधा और दावा किया कि भाजपा का नारा ‘बेटी बचाओ’ नहीं, ‘तथ्य छुपाओ, सत्ता बचाओ’ है।
-कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका ने ट्वीट कर कहा, 'हाथरस जैसी वीभत्स घटना बलरामपुर में घटी। लड़की का बलात्कार कर पैर और कमर तोड़ दी गई। आजमगढ़, बागपत, बुलंदशहर में बच्चियों से दरिंदगी हुई।'
-उन्होंने कहा कि यूपी में फैले जंगलराज की हद नहीं। मार्केटिंग, भाषणों से कानून व्यवस्था नहीं चलती। ये मुख्यमंत्री की जवाबदेही का वक्त है। जनता को जवाब चाहिए।
-कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, 'उप्र में एक और दलित बेटी के साथ गैंग रेप ! सोच कर भी रूह कांपती है - अनाचार, वहशियों ने दोनों पांव और कमर तोड़ डाली ! क्या क़ानून है या मर गया? क्या सविंधान की सरकार है या अपराधियों की? कब रुकेगी ये दरिंदगी? क्यों इस्तीफ़ा नही देते आदित्यनाथ?'

11:30AM, 1st Oct
-हाथरस के बाद बलरामपुर में सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई है। जिले के गैसड़ी क्षेत्र में अनुसूचित जाति की एक युवती के साथ दो युवकों ने दुष्कर्म किया और अस्पताल ले जाते समय पीड़िता की मौत हो गई। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।



और भी पढ़ें :