उम्मीदों की दिवाली, बाजार में ग्राहकी बढ़ी, कहीं-कहीं अब भी इंतजार...

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| Last Updated: मंगलवार, 2 नवंबर 2021 (15:32 IST)
हमें फॉलो करें
इंदौर। पिछली ‍दीपावली कोरोनावायरस (Coronavirus) के साये में मनी थी। उस समय न तो बाजार में ग्राहकों की उतनी संख्या थी न ही लोगों में त्योहार को लेकर कोई उत्साह था। इस बार उत्साह भी है और लोग पूरी क्षमता के साथ बाहर भी निकले हैं। बाजार भी गुलजार हैं। त्योहारी ग्राहकी के चलते भीड़ भी जुटने लगी है। हालांकि की मार से लोग परेशान हैं।


दिवाली का माहौल शुरू होते ही दुकानों पर ग्राहक दिखाई देने लगे हैं। कुछ समय पहले तक दुकानदार हाथ पर हाथ धरे बैठे थे। व्यापारियों को उम्मीद है कि इस बार ग्राहकी अच्छी रहेगी और वे अपने पिछले साल के घाटे को कुछ हद तक कवर कर लेंगे।

मोमबत्ती का कारोबार कर रहे राजकुमार अग्रवाल ने वेबदुनिया से बातचीत में बताते हैं कि ग्राहकी शुरू में थोड़ी कमजोर रही, लेकिन जैसे-जैसे दिवाली के करीब आते ही इसमें बढ़ोतरी की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि उनकी दुकान पर 1 रुपए से लेकर 2000 रुपए तक की मोमबत्ती मौजूद है।
अग्रवाल कहते हैं कि हम चीनी माल नहीं बेच रहे हैं मोदी की मंशा के अनुरूप हम मेक इन इंडिया में भरोसा जताते हुए भारतीय माल ही बेच रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना के चलते पिछली बार धंधा चौपट हो गया था। दीपावली के समय दुकानें तो खुली थीं लेकिन लोगों का खरीदी को लेकर उत्साह नहीं था। इस बार दिवाली अच्छी रहने की उम्मीद है।

एक दुकान पर खरीदारी करने आई एक महिला ग्राहक ने बताया कि माहौल धीरे-धीरे बढ़ रहा है। लोगों में खरीदारी को लेकर क्रेज भी बढ़ रहा है। मार्केट भी धीरे-धीरे उठ रहा है। दो साल से सब कुछ बंद था, अब धीरे-धीरे चीजें ठीक हो रही हैं। कोरोना को लेकर नसीहत देते हुए महिला ने कहा कि हालांकि आधे से ज्यादा लोग वैक्सीनेट हो चुके हैं, लेकिन फिर भी डिस्टेंस मेंटेन करना ही होगा नहीं तो आने वाले समय में मुश्किलें बढ़ सकती हैं। ऐसे में सावधानी बरतें और अपने-अपने घरों में ही दीपावली मनाएं।
एक अन्य व्यापारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर बताया कि महंगाई ने लोगों का दिवाला निकाल दिया है, ऐसे में लोग कैसे दिवाली मनाएंगे। ग्राहकी तुलनात्मक रूप से काफी कम है। बाजार में भीड़ तो दिख रही है, लेकिन लोगों पर महंगाई असर उनकी क्रय क्षमता पर साफ देखने को मिल रहा है। सिर्फ बहुत जरूरी चीजें ही लोग खरीद रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोगों की जेब में पैसा ही नहीं है तो वे खरीदारी कैसे करेंगे। फिर भी हमें उम्मीद है कि सब कुछ अच्छा ही होगा।
वेबदुनिया की अपील : इसमें कोई संदेह नहीं कि लोग घरों से निकल रहे हैं, बाजारों में भीड़ भी दिखाई दे रही है, लेकिन हमें यह बिलकुल भी नहीं भूलना चाहिए कि कोरोना अभी गया नहीं है। तीसरी लहर की आशंकाएं अभी भी बनी हुई हैं। इसलिए आवश्यक है कि मास्क हमेशा लगाएं, भीड़ से बचें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। दोनों टीके जरूर लगवाएं।



और भी पढ़ें :