Live : Maharashtra मामले पर Supreme Court में बड़ी सुनवाई

Last Updated: सोमवार, 25 नवंबर 2019 (11:47 IST)
नई दिल्ली। के सियासी संग्राम पर में सुनवाई शुरू हो चुकी है। रविवार को हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र, राज्य सरकार, देवेन्द्र फडणवीस को नोटिस जारी किया था। तीन जजों की बेंच रह सुनवाई कर रही है। सुप्रीम कोर्ट शिवसेना, एनसीपी, गठबंधन की याचिका पर यह सुनवाई कर रहा है। पेश है पल-पल का ताजा हाल-
सिंघवी ने कोर्ट से कहा- आज फ्लोर टेस्ट करवाने का आदेश दीजिए।
सुप्रीम कोर्ट ने कहा- क्या आदेश देना है यह हम पर छोड़िए।
लोकसभा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा- महाराष्ट्र में लोकतंत्र की हत्या हुई है।
शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के नेता राजभवन पहुंचे। राज्यपाल को सौंपेंगे समर्थन की चिट्‍ठी।
मुकुल रोहतगी ने कहा- गवर्नर ने कई महीनों का समय नहीं दिया है, 30 नवंबर तक का समय दिया है।
- सिब्बल ने कोर्ट में कहा देश में ऐसी क्या राष्ट्रीय विपदा आ गई थी कि सुबह 5 बजे राष्ट्रपति शासन हटा और 8 बजे मुख्यमंत्री की शपथ भी दिलवा दी गई। महाराष्ट्र में अवैध तरीके से सरकार बनाई गई है।
- राज्यपाल के नाम फडणवीस की चिट्ठी पढ़ी गई।
- अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि महाराष्ट्र में लोकतंत्र की हत्या हुई है। 24 घंटे के अंदर फ्लोर टेस्ट कराया जाए।
- कपिल सिब्बल ने कहा कि वरिष्ठ जनों की देखरेख में फ्लोर टेस्ट हो। फ्लोर टेस्ट की वीडियोग्राफी भी कराई जाए।
- सिब्बल ने कहा- हमारे पास 154 विधायकों के समर्थन का हवाला है।
- शिवसेना के वकील कपिल सिब्बल ने हॉर्स ट्रेडिंग पर जवाब देते हुए कहा कि अस्तबल से सिर्फ घुड़सवार ही भागा है, घोड़े वहीं के वहीं हैं।
- अजित पवार के वकील मनिंदर सिंह ने कहा कि विधायक मेरे साथ हैं। जैसे भी हो मामले का हल निकले। विधायक खुद हल निकालें या फिर सुप्रीम कोर्ट तय करे। अगर बाद में कोई स्थिति बनी है तो इसे राज्यपाल देखेंगे। ये उनके विवेकाधिकार के ऊपर छोड़ा जाए। कोर्ट को इसमें दखल नहीं देना चाहिए।
- एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना नेताओं ने संयुक्त चिट्ठी राजभवन भेजी।
- सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि फ्लोर टेस्ट कब होगा, इसका फैसला राज्यपाल को करना है। सबसे पहले प्रोटेम स्पीकर का चुनाव होगा, फिर फ्लोर टेस्ट की प्रक्रिया शुरू होगी।
- जस्टिस खन्ना ने पूछा कि क्या आज सीएम देवेंद्र फडणवीस के पास बहुमत है? इस पर मुकुल रोहतगी ने कहा कि फ्लोर टेस्ट की तारीख पर कुछ नहीं कह सकते।

- बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी ने कोर्ट में कहा कि 'एक पवार (शरद पवार) उनके पास, एक पवार (अजित पवार) हमारे पास है। वे लोग हॉर्स ट्रेडिंग कर रहे हैं और हम पर आरोप लगा रहे हैं।

- बीजेपी ने एनसीपी के समर्थन का कोर्ट में दावा किया। देवेंद्र फडणवीस का पक्ष रख रहे मुकुल रोहतगी ने कहा कि फ्लोर टेस्ट की तारीख के बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता।
- जस्टिस रमन्ना ने कहा कि महाराष्ट्र पर आखिरी फैसला तो फ्लोर टेस्ट में ही होगा।
- राज्यपाल की ओर से पैरवी कर रहे सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि अजित पवार ने जो चिट्ठी राज्यपाल को दिखाई थी, उसमें 54 विधायकों के हस्ताक्षर थे। चिट्ठी में लिखा है कि अजित पवार को विधायक दल का नेता चुना गया है और सरकार बनाने के लिए अधिकृत किया गया है।
- सॉलिसिटर जनरल ने बताया कि अजित पवार ने जो चिट्ठी राज्यपाल को दिखाई थी, उसमें एनसीपी के सभी 54 विधायकों के हस्ताक्षर थे।
- सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने पूर्व सीएम यशवंतराव चव्हाण को श्रद्धांजलि दी।
- जस्टिस रमन्ना की बेंच यह सुनवाई कर रही है
- एनसीपी के वकील अभिषेक मनु सिंघवी कोर्ट रूम में पहुंचे।
- शिवसेना के वकील कपिल सिब्बल कोर्ट में पहुंचे।
- बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी कोर्ट में पहुंचे।
- कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण कोर्ट पहुंचे।


और भी पढ़ें :