भारी बारिश से एमवायएच अस्पताल बेहाल, वार्डों में पानी भरने से मरीज परेशान

Last Updated: शुक्रवार, 13 सितम्बर 2019 (21:37 IST)
इंदौर। लगातार बारिश के कहर से शहर का सबसे बड़ा सरकारी भी बच नहीं पाया है। भारी वर्षा के कारण जलमग्न हो गया है और मरीजों के साथ ही साथ को भी काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। पानी जमा होने के कारण स्थिति इतनी खराब हो गई है कि तलघर स्थित दवा स्टोर में भी पानी भर गया है।
3 साल पहले हुई थी वॉटर प्रूफिंग : दरअसल, इंदौर नगर निगम द्वारा 3 साल पहले ही एमवाय अस्पताल में वॉटर प्रूफिंग का काम कराया गया था। वॉटर प्रूफिंग के बावजूद कैजुअल्टी वॉर्ड की छत से पानी का टपकता नहीं रुका।

सफाई कर्मचारी पानी निकालने में जुटे : भारी जलजमाव के कारण एमवाय के अधीक्षक डॉ. पीएस ठाकुर भी नाराज हैं। उन्होंने नगर निगम के कर्मचारियों से जवाब मांगा है कि बारिश के मौसम से पहले वॉटर प्रूफिंग का काम क्यों नहीं किया गया? शहर में कई दिनों से रुक-रुककर हो रही तेज बारिश के कारण जब एमवाय के वार्डों में पानी भर गया तो उसे निकालने के लिए सफाई कर्मचारी मोर्चे पर लग गए।
साढ़े 3 करोड़ रुपए की लागत से की थी वॉटर प्रुफिंग : 3 साल पहले ही अस्पताल में करीब साढ़े 3 करोड़ रुपए की लागत से वॉटर प्रूफिंग का काम कराया गया था, लेकिन यह दो बारिश भी ठीक से नहीं झेल पाया। एमवाय में पानी भर जाने से फिसलन के कारण मरीजों को लाना-ले जाना मुश्किल हो रहा है। यह भी आशंका है कि बरसात के गंदे पानी से मरीजों में इंफेक्शन भी हो सकता है।
आर्बिट मॉल के पीछे मकान ढहा : लगातार बारिश ने त्योहारों का तो मजा किरकिरा किया ही है, साथ ही आम लोगों का जनजीवन भी अस्त-व्यस्त कर डाला है। बारिश के चलते शुक्रवार तड़के आर्बिट मॉल के पीछे स्थित एक भवन का कुछ हिस्सा भरभराकर ढह गया। हादसे में किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई।
बारिश का दौर जारी : शुक्रवार को सुबह से रुक-रुककर बारिश का दौर जारी है। सुबह 10 से 12 बजे के मध्य मूसलधार बारिश हुई। बादलों के कारण कुछ देर के लिए अंधेरा हो गया और वाहनों की लाइटें चालू करना पड़ीं, वहीं झांकियों वाली रात गुरुवार को भी लगातार बारिश होती रही।

इंदौर में 12 दिनों में ही 10 इंच बारिश : इंदौर में सितंबर के शुरुआती 12 दिनों में ही 10 इंच के करीब बारिश हो चुकी है। इंदौर में बारिश का औसत आंकड़ा 35 इंच माना जाता है, लेकिन इस सीजन में अब तक 44 इंच से अधिक पानी बरस चुका है और अनुमान लगाया जा रहा है कि इस बार 50 इंच से अधिक बारिश इंदौर में दर्ज की जाएगी। साल 2015 में 43.6 इंच और साल 2013 में 55 इंच बारिश हुई थी।



और भी पढ़ें :