कमलनाथ सरकार ने प्रदेश को बनाया तालिबानी प्रदेश,बोली भाजपा, विधानसभा में उठेगा मुद्दा

Author विकास सिंह| Last Updated: गुरुवार, 6 फ़रवरी 2020 (17:39 IST)
भोपाल। धार मामले पर मध्य प्रदेश की सियासत गर्मा गई है। भाजपा मॉब लिचिंग की घटना के कमलनाथ सरकार पर हमलावर हो गई है। पूर्व मुख्यमंत्री सिंह चौहान ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि कमलनाथ सरकार ने मध्य प्रदेश को तालिबानी प्रदेश बना दिया है। आज पीट पीट कर लोगों की हत्याएं की जा रही है,पत्थर से कुचलकर कर लोगों को मारा जा रहा है और सरकार आईफा अवॉर्ड में व्यस्त है।

उन्होंने कहा कि ईमानदार अधिकारियों को प्रताड़ित किया जा रहा है और उनका ट्रांसफर किया जा रहा है। शिवराज ने कहा कि धार में जो लोग मार गए है कि उन्होंने पहले पुलिस को सूचना दी थी लेकिन पुलिस सोती रही है और कोई कार्रवाई नहीं की। उन्होंन सवाल उठाते हुए कहा कि आज पुलिस क्यों नहीं कार्रवाई कर रही है, क्या पुलिस जाति धर्म पंथ पूछ कर कार्रवाई कर रही है। शिवराज ने कहा कि आज प्रदेश में जंगलराज कायम हो गया है।
विधानसभा में गूंजेगा मुद्दा – मनावर मे मॉब लिचिंग की घटना पर दुख जताते हुए नेता प्रतिपक्ष
ने भी इसे तालिबानी करार देते हुए समाज को शर्मसार करने वाली घटना बताया। उन्होंने कहा कि यह घटना दर्शाती है कि प्रदेश में तालिबानी युग की शुरुआत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि पिछले 1 साल में मध्यप्रदेश में दलितों आदिवासियों पर अत्याचार और सौहार्द में खलल डालने वाली घटनाएं हुई है।

सागर में दलित को जिंदा जला दिया जाता है तो मुख्यमंत्री जी के गृह जिले में आदिवासी नाबालिक बेटी का अपहरण कर दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी जाती। लेकिन ऐसी घटनाओं पर सरकार का दिल नही पसीजता। कांग्रेस सरकार की उदासीनता के कारण ही प्रदेश में ऐसी घटनाएं लगातार बढ़ रही है। मनावर की इस घटना के लिए भी कमलनाथ सरकार पूरी तरह जिम्मेदार है। विधानसभा के बजट सत्र में मॉब लिंचिंग की इस घटना पर प्रमुखता से उठाकर सरकार से जवाब मांगेंगे।




और भी पढ़ें :