Relationship Tips : हर रिश्ते में हो मिठास और सकारात्मकता

एक सुखी जीवन में सच्चे रिश्तों का होना बहुत जरूरी होता है। यदि आप एक स्वस्थ रिश्ते में हैं तो आप हमेशा खुद को सकारात्मक और खुश महसूस करेंगे, वहीं रिश्तों में अनबन जीवन में खटास लेकर आती है, चाहे वो रिश्ता कोई भी हो पति, पत्नी या दोस्ती- हर रिश्ते में मिठास और सकारात्मकता का होना बेहद आवश्यक है।

हमने अक्सर देखा है कि कपल्स में यदि किसी बात को लेकर बहस हो जाए तो वे इस बहस में कुछ ऐसी बातें कह जाते हैं जिससे कि एक-दूसरे में दूरियां तो आती ही हैं, साथ ही वह रिश्ता समय के साथ कमजोर होने लगता है, क्योंकि रिश्तों को बचाने की पहल कोई नहीं करना चाहता। ईगो जो हावी है।

तो आइए, इस लेख में जानते हैं कुछ ऐसी बातें, जो आपसी झगड़े में भी एक-दूसरे को दुखी न कर पाए।

गुस्सा एक ऐसी चीज है जिसमें हम होश खो बैठते हैं इसलिए ध्यान रखें कि यह गलती आपके रिश्ते में दूरी ला सकती है और आपके पार्टनर को डिस्टर्ब कर सकती है। जैसे कि आजकल की दिनचर्या को देखते हुए हम सभी जानते हैं कि अधिकतर लोगों का बिजी शेड्यूल होता है जिस कारण वे अपने पार्टनर को पर्याप्त समय नहीं दे पाते।
इसका यह मतलब नहीं कि वे ऐसा जान-बूझकर कर रहे हैं और ऐसे समय में अगर एक पार्टनर होने के नाते आप उन्हें नहीं समझ पा रहे हैं और उन्हें ऐसी बात कह रहे हैं, जो उन्हें दुखी करे तो इस गलती को बिलकुल भी न करें, क्योंकि आपकी यह गलती ही आपके रिश्ते को कमजोर करेगी।

कभी-कभी कुछ बातें ऐसी होती हैं, जो बहुत लंबी चलती हैं और बात सुलझाने की पहल कोई नहीं करना चाहता। इसी वजह से गलतफहमियां बढ़ती जाती हैं, जैसे शादी के बाद अगर आपका अपने पार्टनर के साथ बहुत बड़ा झगड़ा हो जाए तो आप गुस्से में कुछ ऐसी बातें कह जाते हैं, जो आपके पार्टनर को बहुत दुखी कर दे, जैसे 'तुमसे शादी करना मेरी सबसे बड़ी गलती थी'। ये शब्द आपके पार्टनर को पूरी तरह से तोड़कर रख देते हैं इसलिए ऐसे विचार अपने जेहन में न लाएं।
आपसी झगड़े कभी-कभी कुछ इस तरह बढ़ जाते हैं कि हम घर के सदस्यों तक को इन झगड़ों में ले आते हैं, खासकर माता-पिता को। लेकिन आप यह गलती कभी न करें, क्योंकि आपके झगड़ों की वजह आपके माता-पिता नहीं हैं, बल्कि आपके बीच की गलतफहमियां हैं, इसलिए यह गलती न करें, क्योंकि यह बात आपके पार्टनर को दुखी कर सकती है।






और भी पढ़ें :