मंगलवार, 23 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. चुनाव 2024
  2. लोकसभा चुनाव 2024
  3. लोकसभा चुनाव समाचार
  4. Women are giving money to BJP candidate Shivraj to contest elections in Vidisha
Last Modified: मंगलवार, 19 मार्च 2024 (14:40 IST)

विदिशा में BJP उम्मीदवार शिवराज को चुनाव लड़ने पैसे दे रहीं लाड़ली बहनें, भांजे-भांजियां ने भेंट किए अपने गुल्लक

विदिशा में BJP उम्मीदवार शिवराज को चुनाव लड़ने पैसे दे रहीं लाड़ली बहनें, भांजे-भांजियां ने भेंट किए अपने गुल्लक - Women are giving money to BJP candidate Shivraj to contest elections in Vidisha
मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भाजपा ने विदिशा संसदीय सीट से प्रत्याशी बनाया है। भाजपा की ओर से प्रत्याशी घोषित होने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने अपने चुनाव प्रचार अभियान का आगाज कर दिया है। शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को विदिशा लोकसभा की इछावर विधानसभा से अपने चुनाव प्रचार का आगाज़ किया। इस दौरान लाड़ली बहनों ने शिवराज को चुनाव लड़ने के लिए राशि भेंट की। इतना ही नहीं छोटे बच्चे भी अपने मामा को चुनाव लड़ने के लिए गुल्लक भेंट कर रहे हैं। गौरतलब है कि शिवराज सिंह चौहान मामा के नाम से जाना जाते हैं।

चुनाव लड़ने बहनें दे रहीं राशि-आमतौर पर राजनीति में देखा जाता है कि, चुनाव लड़ने वाला प्रत्याशी करोड़ो रूपए खर्च कर चुनाव लड़ने की रणनीति बनाता है, अपने क्षेत्रवासियों का मान-मुनव्वल करता है, कई बार ये भी देखा गया है कि, मतदाताओं को अपने पक्ष में मतदान करने के लिए उन्हें राशि तक दी जाती है, लेकिन मध्यप्रदेश के एक नेता ऐसे हैं जिन्हें बहनें खुद चुनाव लड़ने के लिए राशि दे रही हैं। कोई 50 हजार, कोई 60 हजार तो कोई 50-100 रूपए भी अपने पर्स से निकाल कर दे रही हैं। ये नेता कोई और नहीं बल्कि मध्यप्रदेश के चार बार मुख्यमंत्री रहे शिवराज सिंह चौहान है।

इछावर में आयोजित जनसभा से पहले कई महिलाओं ने अपने भैया शिवराज को चुनाव लड़ने के लिए राशि भेंट की। इस दौरान पूर्व सीएम ने बहनों से पूछा कि, किस चीज के पैसे हैं..? तो बहनों ने कहा कि, हमारा भैया चुनाव लड़ रहा है तो भैया को चुनाव लड़ने के लिए हम पैसे दे रहे हैं। बहनों की बातों को सुनकर शिवराज सिंह चौहान भावुक नज़र आए और उन्होंने शीश झुकाकर बहनों को प्रणाम किया। इस दौरान पूर्व सीएम श्री चौहान ने कहा कि, अक्सर राजनीति में उल्टा होता है, जो चुनाव लड़ता है उससे कहते हैं कि, पहले पैसे निकलो। मैं इतने गाँव से आ रहा हूँ मुझे कहते हुए गर्व है कि मेरे बुजुर्गों ने, मेरी बहनों ने, बेटियों ने मुझे चुनाव लड़ने के लिए उनकी जमा की हुई राशि दी है। ये कैसा प्रेम है, कई बार मैं सोचता हूँ कि मेरी जनता और मेरी बहनों के प्रेम का ये कर्ज मैं कैसे उतारूँगा।

नन्हीं भांजियां भी दे रही गिफ्ट-बहनें ही नहीं छोटे बच्चे भी अपने मामा को पैसों से भरा गुल्लक भेंट कर रहे हैं। भोपाल की नन्हीं आशी अग्रवाल ने भी पहले पूर्व सीएम के साथ पौधरोपण किया और फिर उन्हें अपना गुल्लक सौंप दिया। इन बच्चों को पूरा विश्वास है कि, उनके मामा चुनाव जीतकर उनके सपनों को पंख लगाएगा और वो लंबी उड़ान भरेंगे।

पूर्व सीएम शिवराज ने सांसद रहते हुए सबसे पहले बच्चियों को गोद लेकर उनके विवाह करवाने का अभियान शुरू किया था। मुख्यमंत्री के पद पर आसीन होते ही शिवराज सिंह ने सबसे पहले लाड़ली लक्ष्मी जैसी योजना की शुरूआत की थी। साथ ही कन्या विवाह योजना के तहत हजारों गरीब बच्चियों का विवाह करवाया था। शायद यही वजह है कि, बेटियां और बच्चे भी अपने मामा को चुनाव लड़ने के लिए राशि और गुल्लक दे रहे हैं।  

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान विदिशा से 5 बार सांसद रह चुके हैं और हर बार बड़े अंतर से जीत दर्ज की है। इस बार माना जा रहा है कि, पूरे देश में विदिशा लोकसभा सीट से शिवराज सिंह चौहान सबसे ज्यादा, रिकॉर्ड मतों से जीत हासिल करेंगे।

ये भी पढ़ें
पीएम मोदी बोले, केवल हिंदू धर्म को निशाना बनाता है इंडिया गठबंधन