केजरीवाल तीन दिन तक घर में रहे, मतलब 'बालाकोट' फोड़ दिया

पुनः संशोधित मंगलवार, 23 अप्रैल 2019 (15:35 IST)
किसी समय दिल्ली के मुख्‍यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के सहयोगी रहे विधायक कपिल मिश्रा ने सर्जिकल स्ट्राइक 3.0 पर कमेंट करते हुए कहा कि तीन दिन से केजरीवाल का घर से ना निकलना ये बताता हैं कि फोड़ दिया गया।
दअरसल, इस पूरे मामले को अरविन्द केजरीवाल और उनके विधायकों के बीच हुई हाथापाई से जोड़कर देखा जा रहा है। अपने नाम के आगे चौकीदार जोड़ने वाले कपिल मिश्रा ने मंगलवार को ट्‍वीट कर कहा कि जब नया इंडिया घर में घुसकर मारता है तो सबूत दुश्मन की चुप्पी और एयर स्पेस बंद होने से ही मिल जाता है।

अजय पांडे नामक व्यक्ति ने ट्‍वीट कर लिखा कि आप सही कह रहे हैं कि केजरीवाल को अब सबूत देने की जरूरत नहीं है क्योंकि उन्ही के खास विधायकों ने 'बालाकोट' फोड़ दिया है। इसीलिए केजरीवाल ना घर से बाहर निकल रहे हैं और ना ही सोशल मीडिया पर नज़र आ रहे हैं।
रघुवीर सोलंकी ने लिखा कि पाकिस्तान के राष्ट्रीय जीजाजी भाजपा में शामिल हो गए। ढाई किलो का हाथ, भाजपा के साथ। एक अन्य व्यक्ति ने लिखा कि अपनी सरकार के बेचारे सचिव की उसके घर मे जाकर पिटाई की थी। लगता है उसकी प्रार्थना की सुनवाई जल्दी कर ली भगवान ने।
क्या पिटाई का मामला : कपिल मिश्रा के ट्‍वीट के मुताबिक यह घटना शनिवार की है। मुख्‍यमंत्री आवास पर कांग्रेस के साथ गठबंधन पर पर चर्चा हो रही थी। टिकटों के बंटवारे को लेकर अचानक केजरीवाल भड़क गए और उन्होंने अपने ही विधायकों को गाली देना शुरू कर दी। केजरीवाल को आपे से बाहर देख विधायकों से भी नहीं रहा और नौबत हाथापाई तक पहुंच गई। बताया जाता है कि एक विधायक ने उन्हें घूंसा भी जड़ दिया था।

 

और भी पढ़ें :