सचिन से कोहली तक को आउट कर चुका है यह पाक गेंदबाज, 10 साल से विश्वकप में जाने को तरस रहा है

Last Updated: शुक्रवार, 19 अप्रैल 2019 (18:00 IST)
नई दिल्ली। ऐसा अमूमन कम ही देखा जाता है जब कोई खिलाडी दस साल पहले राष्ट्रीय टीम के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल ले और फिर भी उसे की टीम में जगह न मिले। लेकिन यह अचंभित करने वाली बात एक पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ी के साथ हो रही है। जब जब विश्वकप आता है वह किसी न किसी कारण टीम से बाहर हो जाते हैं।
10 साल पहले मोहम्मद आमिर एक चमकता सितारा थे और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलते हुए टेस्ट मैचों में 51 विकेट और एकदिवसीय मैचों में 25 विकेट के अलावा ट्वेंटी 20 मैचों में 23 विकेट ले चुके थे। लेकिन ने उनके करियर पर ग्रहण लगा दिया।

स्कैंडल के सामने आने से पहले आमिर ने वर्ष 2010 में लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में अंतिम बार राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व किया था। मामला सामने आने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने मोहम्मद आमिर के साथ तत्कालीन कप्तान सलमान बट और मोहम्मद आसिफ को निलंबित कर दिया था। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज को जब 5 वर्ष के लिए प्रतिबंधित किया गया था तो वे महज 18 वर्ष के थे।
वापस आए तो 2011 और 2015 का विश्वकप गुजर चुका था
का प्रतिबंध खत्म हुआ सितंबर 2015 में। जब तक वह क्रिकेट से दूर थे तब भारत 2011 का और ऑस्ट्रेलिया 2015 का विश्वकप जीत चुका था।

2019 विश्वकप टीम में नहीं
जोरदार वापसी के बाद भी 2018 में उनके प्रदर्शन में गिरावट आती गई और वे चैंपियंस ट्रॉफी के बाद से 101 ओवर में 92.60 के औसत से मात्र 5 विकेट ही ले पाए हैं जो बेहद खराब प्रदर्शन है।
विश्व कप के लिए टीमें भेजने की अंतिम समय सीमा 23 अप्रैल है, लेकिन टीमें 23 मई तक अपने टीम में परिवर्तन कर सकती हैं।

सचिन-कोहली तक का विकेट निकाल चुके हैं
हैरानी की बात यह है कि मोह्मद आमिर चैंपियन्स ट्रॉफी में सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली तक का विकेट निकाल चुके हैं लेकिन विश्वकप का टिकट अब शायद ही उन्हें कभी मिले।

 

और भी पढ़ें :