भारत-वेस्टइंडीज दूसरा वनडे : जीत के लिए उतरेगी टीम इंडिया

पुनः संशोधित शनिवार, 10 अगस्त 2019 (17:03 IST)
पोर्ट ऑफ स्पेन। वेस्टइंडीज के खिलाफ 3 मैचों की सीरीज का पहला मैच रद्द रहने के बाद रविवार को खेले जाने वाले दूसरे वनडे में हर हाल में जीत के साथ 1-0 की बढ़त के लिए उतरेगी। कप्तान विराट कोहली ने मैच के इस तरह रद्द रहने पर काफी निराशा जताई थी।
भारत और वेस्टइंडीज के बीच प्रोविडेंस में खेला गया पहला वनडे 13 ओवर के बाद बारिश के कारण रद्द करना पड़ गया था। वेस्टइंडीज ने 34 ओवर के खेल में 1 विकेट गंवाकर 54 रन बनाए थे। कप्तान विराट कोहली ने मैच के इस तरह रद्द रहने पर काफी निराशा जताई थी, लेकिन अब पोर्ट ऑफ स्पेन में खेले जाने वाले दूसरे वनडे में भी बारिश की संभावना जताई गई है जिससे मैच को लेकर स्थिति संदिग्ध बनी हुई है। हालांकि दोनों टीमों के लिए अब सीरीज जीतने के लिए बाकी बचे दोनों मैचों को जीतना अनिवार्य हो गया है, ऐसे में भारत कोशिश करेगी कि वह जीत सुनिश्चित कर ले।

विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम आईसीसी विश्व कप के बाद अपनी पहली वनडे सीरीज खेल रही है। उसने वेस्टइंडीज से 3 ट्वंटी-20 मैचों की सीरीज में 3-0 से क्लीन स्वीप की है और अब इसी सफलता को वह वनडे में दोहराना चाहती है। वहीं वेस्टइंडीज टीम इस सीरीज में अपनी पहली जीत दर्ज करना चाहेगी। क्वींस पार्क ओवल में मेजबान टीम को पिछले 7 मैचों में से 6 में हार झेलनी पड़ी है जिनमें से 4 तो अकेले भारत के खिलाफ ही थे। जेसन होल्डर की अगुवाई वाली टीम रविवार को निश्चित ही अपने इस रिकॉर्ड को सुधारना चाहेगी।

वेस्टइंडीज के स्टार बल्लेबाज क्रिस गेल ने पहले वनडे में संघर्ष किया था और ओपनर 31 गेंदों में 4 रन ही बना पाए थे। अपने करियर के आखिरी पड़ाव पर चल रहे गेल की कोशिश रहेगी कि वह ट्वंटी-20 क्रिकेट की तरह वनडे में भी अपनी टीम के लिए जोरदार प्रदर्शन करें। गेल वनडे में सर्वाधिक रन बनाने के मामले में दिग्गज खिलाड़ी ब्रायन लारा के स्कोर से केवल 7 रन ही दूर हैं और दूसरे वनडे में उनके पास रिकॉर्ड बुक में नाम दर्ज कराने का मौका होगा।

वहीं भारतीय टीम को अपने कप्तान विराट से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी जिन्होंने जनवरी 2012 से वेस्टइंडीज के खिलाफ 78.35 के औसत से 1,332 रन बनाए हैं। टीम इंडिया की ओर से जनवरी 2016 से विराट, रोहित शर्मा और शिखर धवन की तिकड़ी ने 79.63 के औसत से 1,449 वनडे रन बनाए हैं और ये टीम के शीर्ष स्कोरर रहे हैं। टीम को उम्मीद रहेगी कि त्रिनिदाद में दूसरे मैच में इसी तरह की बल्लेबाजी देखने को मिले। गेंदबाजों में टीम को अपने स्पिनर कुलदीप यादव के अलावा तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार से काफी उम्मीद रहेगी।

भुवनेश्वर का पोर्ट ऑफ स्पेन में बढ़िया रिकॉर्ड रहा है और वे इस मैदान पर सर्वाधिक विकेट लेने वाले विदेशी गेंदबाज हैं। भारत और वेस्टइंडीज के बीच आखिरी वनडे आईसीसी विश्व कप के राउंड रॉबिन में हुआ था, जहां भारत ने 125 रनों की बड़ी जीत दर्ज की थी। इस मैच में विराट ने अर्द्धशतक जड़ा था जबकि तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने सर्वाधिक 4 विकेट निकाले थे। हालांकि विराट ने माना कि वेस्टइंडीज की पिचें और टीम कई बार अप्रत्याशित परिणाम देती हैं इसलिए टीम को सतर्क रहना होगा। उन्होंने इस मैच को लेकर कहा कि वेस्टइंडीज की कुछ पिचें आपकी कड़ी परीक्षा लेती हैं।

कुछ पिचों पर काफी उछाल और तेजी होती है और कुछ काफी धीमी रहती हैं। ऐसे में आपको परिस्थितियों के अनुकूल खेलना होता है। हालांकि मैच में एक बार फिर बारिश की बड़ी भूमिका मानी जा रहा है और मौसम विभाग के अनुसार रविवार को भी यहां बादल छाए रहने की संभावना है। ऐसे में टॉस की भी अहम भूमिका रहेगी। इस पिच पर लक्ष्य का बचाव करने वाली टीम को फायदा मिलता रहा है, ऐसे में दोनों कप्तानों के लिए पहले बल्लेबाजी का फैसला अहम होगा।

 

और भी पढ़ें :