1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. England broke the record of 112 years, scored 506 runs in a day
Written By
पुनः संशोधित गुरुवार, 1 दिसंबर 2022 (23:51 IST)

इंग्लैंड ने तोड़ा 112 साल का रिकॉर्ड, एक दिन में बनाए 506 रन

रावलपिंडी। इंग्लैंड ने गुरुवार को यहां पाकिस्तान के खिलाफ स्टंप्स तक 506 रन बनाकर टेस्ट मैच के पहले दिन सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड तोड़ दिया।
 
इंग्लैंड ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए 75 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 506 रन बनाए। इससे पूर्व, टेस्ट मैच के पहले दिन सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के पास था, जिसने 1910 में दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध सिडनी में 494 रन जोड़े थे। इंग्लैंड के शीर्ष पांच बल्लेबाजों में जो रूट (23) एकमात्र ऐसे खिलाड़ी थे जो शतक नहीं जड़ सके।
 
सलामी बल्लेबाज ज़ैक क्रॉली और बेन डकेट के शतक जड़ने के बाद हैरी ब्रूक और ओली पोप ने भी सैकड़ा जमाया। यह पहली बार है कि टेस्ट मैच के पहले दिन चार शतक बनाए गए। इसी बीच, ब्रूक ने पदार्पण कर रहे सऊद शकील के एक ओवर में 6 चौके जड़े और टेस्ट मैच ऐसा करने वाले पांचवें बल्लेबाज बन गए। इससे पहले संदीप पाटिल, क्रिस गेल, रामनरेश सरवन और सनथ जयसूर्या यह कारनामा कर चुके हैं।
 
बैकफुट पर पाकिस्तान : पिंडी क्रिकेट स्टेडियम की सपाट पिच पर पाकिस्तान के गेंदबाज इंग्लैंड के लिए कोई समस्या नहीं खड़ी कर सके। क्रॉली और डकेट की सलामी जोड़ी ने छह से ज्यादा की रन गति से 35.4 ओवर में 233 रन की साझेदारी की। क्रॉली ने 111 गेंदों पर 21 चौकों के साथ 122 रन बनाए जबकि डकेट ने 110 गेंदों पर 15 चौकों की मदद से 107 रन की पारी खेली।
 
पाकिस्तान ने दोनों सलामी बल्लेबाजों को दो रन के अंतराल में आउट करने के बाद रूट को भी छोटे स्कोर पर पैवेलियन भेज दिया। इससे पहले कि बाबर आज़म के गेंदबाज मैच पर शिकंजा कस पाते, पोप-ब्रूक की जोड़ी ने ‘बैज़बॉल’ की आक्रामक रणनीति के अनुसार ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करना शुरू कर दी।
 
ब्रूक ने 68वें ओवर में सऊद शकील को छह चौके जड़कर 24 रन जोड़े। पोप 104 गेंदों पर 14 चौकों के साथ 108 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए, जिसके बाद क्रीज पर आए कप्तान बेन स्टोक्स ने मोहम्मद अली के एक ओवर में 18 रन जोड़े। दिन का खेल खत्म होने तक स्टोक्स 34 रन बनाकर, जबकि ब्रूक 101 रन बनाकर विकेट पर मौजूद हैं। (एजेंसियां)
Edited by: Vrijendra Singh Jhala
ये भी पढ़ें
स्टोक्स ने भारत में एकदिवसीय विश्व कप में वापसी का रास्ता रखा खुला