महाराष्ट्र में 12वीं की परीक्षा रद्द, उद्धव सरकार का फैसला

Last Updated: गुरुवार, 3 जून 2021 (18:30 IST)
मुंबई। कोरोनावायरस महामारी के मद्देनजर स्टेट बोर्ड ऑफ सेकंडरी एंड हायर सेकेंडरी एजुकेशन (MSBSHSE) की 12वीं कक्षा (HSC) की परीक्षा रद्द कर दी गई हैं।
गुरुवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ डिजास्टर मैनेजमेंट की हुई बैठक में इस संबंध में प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई। संक्रमण के आंकड़ों में राहत के बावजूद महाराष्ट्र सरकार ने आखिरकार 12वीं की परीक्षा को रद्द करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। इसे लेकर सरकार विस्तृत गाइडलाइन जल्द जारी कर सकती है।

राहत एवं पुनर्वास मंत्री वडेट्टीवार ने यहां पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि 10वीं और 12वीं की राज्य बोर्ड की परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य के नाम अपने पिछले संबोधन के दौरान इसके संकेत दे दिये थे। आज औपचारिक निर्णय लिया गया।'
गौरतलब है कि दो दिन पहले केन्द्र ने कोविड-19 महामारी का हवाला देते हुए 12वीं की सीबीएसई की परीक्षाएं रद्द कर दी थीं। महाराष्ट्र में इससे पहले कोविड-19 मामलों में वृद्धि के चलते 10 कक्षा की (एसएससी) बोर्ड की परीक्षाएं रद्द कर दी गई थीं, लेकिन इसका औपचारिक ऐलान नहीं किया गया था।

मंत्री ने कहा कि कुछ लोगों ने परीक्षाएं रद्द करने का विरोध किया, लेकिन मुख्यमंत्री ठाकरे, उपमुख्यमंत्री अजित पवार और अन्य संबंधित अधिकारियों से साथ बैठक में परीक्षाएं रद्द करने का फैसला लिया गया। स्कूली शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने बुधवार को कहा था कि इन परीक्षाओं पर अंतिम फैसला लेने के लिए राज्य के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण को एक प्रस्ताव भेजा गया है।



और भी पढ़ें :