WhatsApp पर मैसेज प्रायवेसी को लेकर कंपनी ने दिया बड़ा बयान

पुनः संशोधित रविवार, 27 सितम्बर 2020 (18:13 IST)
सोशल मैसेजिंग ऐप पर मैसेज प्राइवेसी को लेकर सवाल उठते रहते हैं, इस पर कंपनी ने कहा कि उसके मंच के जरिए भेजे जाने वाले संदेश कूट भाषा में (इनक्रिप्टेड) होते हैं और केवल संदेश भेजने और प्राप्त करने वाला ही उसे पढ़ सकता है।
कलाकारों के नशीले पदार्थों को लेकर WhatsApp पर संदेश के आदान-प्रदान के कथित रूप से लीक होने और उसको लेकर WhatsApp यूजर्स के बीच बातचीत की निजता को लेकर जताई जा रही चिंता के बीच यह बयान जारी किया गया है।

WhatsApp के प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी आपके संदेश को सुरक्षित रखती है और यह कूट रूप में होता है ताकि आप और जिसको आपने भेजा है, वे ही उसे पढ़ सके। WhatsApp समेत कोई भी उसे नहीं पढ़ सकता है।

प्रवक्ता ने कहा कि लोग व्हाट्सऐप से केवल फोन नंबर का उपयोग कर जुड़ते हैं और फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी के पास संदेश की बातों तक पहुंच नहीं होती। उसने कहा कि WhatsApp समेत कोई भी उसे नहीं पढ़ सकता है।

उसने कहा कि WhatsApp, ऑपरेटिंग सिस्टम विनिर्माताओं के डिवाइस स्टोरेज को लेकर दिशा-निर्देशा का अनुकरण करती है। हम लोगों को ऑपरेटिंग सिस्टम की तरफ से उपलब्ध पासवर्ड या बॉयोमेट्रिक आईडी समेत सभी सुरक्षा विशेषताओं का लाभ उठाने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। ये सुरक्षा विशेषताएं किसी तीसरे पक्ष को उपकरण में उपलब्ध सामग्री तक पहुंचने से रोकती है। (एजेंसियां)



और भी पढ़ें :