कप्तान धोनी ने मोइन अली को पकड़ाई गेंद और पलट गया मैच का पासा

पुनः संशोधित रविवार, 8 मई 2022 (23:40 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई:सलामी बल्लेबाज डेवोन कॉनवे के तूफानी अर्धशतक के बाद मोईन अली की अगुआई में गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से ने रविवार को यहां को 91 रन से हराकर प्ले आफ में जगह बनाने की अपनी मामूली उम्मीद बरकरार रखी।

इस जीत से सुपरकिंग्स के 11 मैच में चार जीत से आठ हो गए हैं। टीम आठवें स्थान पर है। दिल्ली की टीम के 11 मैच में 10 अंक हैं।

सुपरकिंग्स के 209 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए दिल्ली की टीम मोईन (13 रन पर तीन विकेट), ड्वेन ब्रावो (24 रन पर दो विकेट), मुकेश चौधरी (22 रन पर दो विकेट) और सिमरजीत सिंह (27 रन पर दो विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने 17.4 ओवर में 117 रन पर ढेर हो गई। टीम की ओर से मिशेल मार्श ने सर्वाधिक 25 रन बनाए जबकि शार्दुल ठाकुर ने 24 और कप्तान ऋषभ पंत ने 21 रन की पारी खेली।

सुपरकिंग्स के लिए कॉनवे ने 49 गेंद में पांच छक्कों और सात चौकों की मदद से 87 रन की पारी खेली। उन्होंने रुतुराज गायकवाड़ (41) के साथ पहले विकेट के लिए 110 रन जबकि शिवम दुबे (32) के साथ दूसरे विकेट के लिए 59 रन की साझेदारी की जिससे टीम ने छह विकेट पर 208 रन बनाए। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आठ गेंद में 21 रन बनाकर नाबाद रहे।

दिल्ली की ओर से एनरिच नॉर्किया सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 42 रन देकर तीन विकेट चटकाए। खलील अहमद ने 28 रन देकर दो विकेट हासिल किए।

गायकवाड़ और कॉन्वे की शतकीय साझेदारी ने रखी जीत की नींव

पंत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया जिसके बाद गायकवाड़ और कॉनवे ने सुपरकिंग्स को तूफानी शुरुआत दिलाई। कॉनवे ने नॉर्किया पर चौका मारा जबकि गायकवाड़ ने इस तेज गेंदबाज पर पारी का पहला छक्का जड़ा।

कॉनवे ने अक्षर पटेल का स्वागत दो छक्कों के साथ किया जबकि गायकवाड़ ने शार्दुल ठाकुर पर दो चौकों के साथ पावर प्ले में टीम का स्कोर बिना विकेट खोए 57 रन तक पहुंचाया। इस जोड़ी की यह लगातार तीसरी अर्धशतकीय साझेदारी रही।

कॉनवे ने कुलदीप यादव को निशाना बनाया। उन्होंने इस स्पिनर के पहले ओवर में लगातार गेंदों पर दो छक्के और एक चौका मारा और फिर उनके अगले ओवर में भी लगातार तीन चौके जड़कर 10वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया। उन्होंने अक्षर की गेंद पर एक रन के साथ 27 गेंद में लगातार तीसरा अर्धशतक पूरा किया।

गायकवाड़ ने अगले ओवर में नॉर्किया पर दो चौके मारे लेकिन इसी ओवर में गेंद को हवा में लहराकर मिडविकेट पर अक्षर को आसान कैच दे बैठे। उन्होंने 33 गेंद की अपनी पारी में चार चौके और एक छक्का मारा।चेन्नई का पहला विकेट 110 रनों पर गिरा और इस साझेदारी ने चेन्नई के लिए एक बड़े स्कोर की नींव रखी। कॉनवे भी अगले ओवर में खलील की गेंद पर विकेटपर पंत को कैच दे बैठे।
चेन्नई के हर गेंदबाज को मिले विकेट

लक्ष्य का पीछा करने उतरे दिल्ली ने दूसरे ओवर में ही श्रीकर भरत (08) का विकेट गंवा दिया जिन्होंने सिमरजीत सिंह पर लगातार दो चौके जड़ने के बाद स्लिप में मोईन अली को कैच थमाया।

डेविड वार्नर (19) ने मुकेश चौधरी पर दो छक्के मारे के बाद महेश तीक्षणा का स्वागत चौके के साथ किया लेकिन अगली गेंद पर पगबाधा हो गए जिससे टीम का स्कोर दो विकेट पर 36 रन हो गया।

पंत ने आते ही तीक्षणा पर लगातार तीन चौके मारे। मार्श ने भी सिमरजीत पर छक्का जड़ा जिससे टीम ने पावर प्ले में दो विकेट पर 59 रन बनाए।

मोइन का ओवर बना टर्निंग प्वाइंट

धोनी ने आठवें ओवर में गेंद मोईन को थमाई और उन्होंने मैच का रुख बदल दिया। मोईन ने मार्श को लांग आन पर गायकवाड़ के हाथों कैच कराया और फिर अपने अगले ओवर में पंत और रिपल पटेल (06) को पवेलियन भेजकर दिल्ली के मध्यक्रम की कमर तोड़ दी। पंत ने मोईन की गेंद को विकेटों पर खेला जबकि रिपल ने पहली गेंद पर छक्का जड़ने के बाद अगली गेंद में इसी शॉट को दोहराने की कोशिश में कॉनवे को आसान कैच थमा दिया।
चौधरी ने इसके बाद गेंदबाजी में वापसी करते हुए अक्षर पटेल (01) और रोवमैन पावेल (03) को आउट करके दिल्ली का स्कोर दो विकेट पर 72 रन से सात विकेट पर 85 रन कर दिया।

सिमरजीत ने कुलदीप यादव (05) को आउट करके दिल्ली को आठवां झटका दिया जबकि ड्वेन ब्रावो ने ठाकुर और खलील अहमद (00) को लगातार गेंदों पर पवेलियन भेजकर दिल्ली की पारी का अंत किया।



और भी पढ़ें :