Special Story : शाहरुख की तरह प्रीति जिंटा ने भी की लापरवाही, नहीं मानी PM मोदी की बात

दुबई में मंगलवार की रात को 2020 (2020) में (Kings XI Punjab) फ्रेंचाइजी की मालिक और बॉलीवुड अभिनेत्री प्रीति जिंटा ने फिर वही गलती दोहराई जो गलती कोलकाता नाइट राइडर्स के मालिक शाहरुख खान कर चुके थे। जीत के उन्माद में ये सितारे भूल जाते हैं कि कोरोनाकाल (Covid-19) अभी खत्म नहीं हुआ है...पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के ब्रम्ह वाक्य '2 गज की दूरी, मास्क है जरूरी' को भी ये सितारे पूरी दुनिया के सामने हवा में उड़ा देते हैं।
हैरत तो तब हुई, जब मंगलवार को ही आठ घंटे पूर्व प्रीति जिंटा ने कोविड टेस्ट करवाया और बाकायदा उसका वीडियो ट्‍विटर अकाउंट पर साझा भी किया। प्रीति ने लिखा 'लोग मुझसे पूछते हैं कि आईपीएल टीम का बायो बबल क्या है? यह 6 दिन का क्वारंटाइन है। हर 4 दिन में को‍विड टेस्ट होता है।' इस वीडियो में वे खुद कोविड टेस्ट करवाती हैं और बाद में मास्क चढ़ा लेती हैं।
जब प्रीति खुद कोरोना जैसी बीमारी के बारे में जानती हैं तो कैसे लापरवाही कर सकती हैं? प्रीति ने यह लापरवाही की और पंजाब-दिल्ली का मैच देख रहे दर्शकों ने भी नोटिस की। 19वें ओवर में जब दीपक हुड्‍डा ने लापरवाही भरा शॉट खेला और आसमानी ऊंचाई नापने के बाद गेंद पर स्टोइनिस कैच लपकने से चूक गए तो प्रतिक्रिया डगआउट के पास बने वीआईपी बॉक्स में हुई, जहां टीम की मालकिन प्रीति जिंटा पूरे दलबल के साथ बैठी हुई थी। सभी लोग बिना मास्क के थे और प्रीति हुड्‍डा की लापरवाही पर झल्ला गईं।
प्रीति का यह गुस्सा जेम्स निशम ने तब शांत किया, जब उन्होंने विजयी छक्का उड़ा डाला। बिना मास्क पहने बैठी प्रीति जिंटा खुशी से झूम उठी और उन्होंने अपने हाथों में किंग्स इलेवन पंजाब का ध्वज पूरे जोश के साथ लहराना शुरू कर दिया, जैसा कि वह अकसर जीत के बाद करती हैं। प्रीति भूल गई थी कि इस मैच के लाइव प्रसारण में कैमरा उन्हें बगैर मास्क के कैद कर रहा है।
जितनी भी सैलिब्रिटी होती हैं, वे संदेश कुछ देती हैं और जब अमल की बात आती हैं तो तमाम अनुशासन भूल जाती हैं। जैसा कि शाहरुख भी कोलकाता की जीत पर मास्क उतार बैठे थे। संयोग देखिए कि शाहरुख ने जिस दिन मास्क उतारा था, तब भी प्रधानमंत्री मोदी ने सार्वजनिक रूप से लोगों को मास्क पहनने की नसीहत दी थी और मंगलवार के दिन भी राष्ट्र को संबोधित करते हुए उन्होंने मास्क पहनने पर बल दिया। क्या मोदी की आवाज इन सितारों के कानों तक नहीं पहुंचती?
'दिल्ली के गब्बर' पर भारी पड़े निकोलस पूरन
इस मैच की कहानी इतनी भर रही कि 'दिल्ली के गब्बर' ने बैक टू बैक नाबाद शतक (106) जड़ा। इससे पूर्व वे चेन्नई के खिलाफ भी 58 गेंदों में नाबाद 102 शतक की पारी खेल चुके हैं। आईपीएल इतिहास में यह पहला प्रसंग है, जब‍ किसी बल्लेबाज ने लगातार 2 मैचों में सैकड़ा जड़ा हो।
धवन ने मैच की कुल 120 गेंदों में से 61 गेंदें खेलीं और अविजित जब वापस लौटे तो दिल्ली का स्कोर 5 विकेट पर 164 रन था। इस मैच में दिल्ली के इस धुरंधर ने आईपीएल में 5 हजार रन भी पार किए। विराट, सुरेश रैना, रोहित शर्मा और डेविड वॉर्नर के बाद ऐसा करने वाले वे पांचवें बल्लेबाज बन गए हैं। धवन की इस मेहनत पर के अर्धशतक ने पानी फेर दिया।
पंजाब को जीत दिलाने में निकोलस पूरन ने 28 गेंदों पर 53 रनों की तूफानी पारी खेली, जिसमें 6 चौके और 3 छक्के शामिल थे। 32 रन बनाने वाले ग्लेन मैक्सवेल पंजाब को जीत के दरवाजे पर पहुंचाकर आउट हुए जबकि दीपक हुड्‍डा (नाबाद 15) और जेम्स निशम (नाबाद 10) ने मैच को 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर खत्म करके पंजाब को अंक तालिका में पांचवें स्थान पर पहुंचाकर की उम्मीदों को जिंदा रखा।
यह भी सही है कि मैच में यदि क्रिस गेल नाम के तूफान की पारी (13 गेंद, 3 चौके, 2 छक्के, 29 रन) का अंत रविचंद्रन अश्विन नहीं करते तो यह मैच बहुत पहले खत्म हो गया होता...किंग्स इलेवन पंजाब ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 19 ओवर में 5 विकेट पर 167 रन बनाकर 5 विकेट से जीत दर्ज की। पंजाब की आईपीएल में यह लगातार तीसरी जीत है, जिसने प्रीति जिंटा के दिल को खुश कर दिया।



और भी पढ़ें :