दुनिया के 11 महान जादूगर, जानिए भारत के कितने....

अनिरुद्ध जोशी 'शतायु'|
जादूगर आनंद ( magician anand ) :  जादूगर आनंद अपने कार्य में इतने निपुण हैं कि उनका दिखाया ट्रिक असली लगने लगता है। खुद जादूगर आदंन कहते हैं कि दुनिया में जादू नाम की कोई ‍चीज नहीं होती। यह तो हाथ की सफाई और सम्मोहन क्रिया है।
 
3 जनवरी 1952 को मध्यप्रदेश के जबलपुर में जन्मे जादूगर आनंद ने देश-विदेश में अपने सैंकड़ों शो किए। यह आश्चर्य ही है कि 6 वर्ष की उम्र में उन्होंने अपना पहला शो छत्तीसगढ़ के रायपुर में किया था। वे अब तक भारत के अलावा विश्व के 36 देशों में जादू के 30 हजार शो कर ‍चुके हैं। पीसी सरकार और जादूगर आनंद ने भारत में मदारियों के मजमे तक सिमटी अनूठी कला को कस्बाई गली-कूचों और फुटपाथों से उठाकर मंच तक ले जाने का करिश्मा कर दिखाया। जादूगर आनंद ने मदारियों से जादू सीखा यह कहने में उन्हें कोई आश्चर्य नहीं होता।
 
शायद बहुत कम लोगों को यह पता होगा कि जादूगर आनंद सुप्रसिद्ध दार्शनिक आचार्य रजनीश के साथ वर्षों रहे। जादूगर आनंद ने भी अपनी जादूगरी के शुरुआती दिनों में हैरी हुडिनी को श्रद्धांजलि देने के लिए उनके मशहूर खेल को अनेकों अंदाज में पेश किया था।
 
जादूगर आनंद पहले हाथी और अन्य जंगली जानवरों को गायब करने का करिश्मा दिखाया करते थे लेकिन, अब सभी के सामने स्टेच्यू लिबर्टी को गायब करने का करिश्मा दिखाते हैं। इसके अलावा वे चलती फिल्म के पर्दे में समा जाते हैं और उसके कलाकारों को पर्दे से निकलकर मंच पर ला खड़ा कर देते हैं। वे किसी व्यक्ति को दो टुकड़े में काटकर फिर जोड़ देते हैं और ममी को जिंदाकर हवा में विलीन कर देते हैं, हालांकि ये कारनामें और भी जादूगर करते हैं लेकिन आनंद का अंदाज निराला है। उनके जादू में सबसे मशहूर जादू है कि वे सभी के सामने गले के आरपार कर देते हैं तलवार। आंखों पर काली पट्टी बांधकर वे संपूर्ण शहर में बुलेट पर घुमते हैं।
 
जादूगर आनंद के बेटे आकाश भी उनके पिता की तरह स्टंट करने में माहिर है। एक बार जबलपुर में सभी के सामने आकाश के हाथ और पैर सहित पूरे शरीर पर चालीस फुट लम्बी लोहे की जंजीर बांधी गई। इस पर चालीस ताले लगाए गए और फिर आकाश को क्रेन की मदद से उलटा लटका कर घास फूस के बने कुएं में उतार दिया गया। बाद में उस कुएं को पेट्रोल डालकर आग लगा दी गई। इस धधकती हुई आग के बीच से पलभर में ही जजीरें तोड़ कर आकाश बाहर आ गए। इस खतरनाक स्टंट को आकाश ने कई बार किया।
 
अगले पन्ने पर छठा जादूगर...
 



और भी पढ़ें :