मुंबई की घटना : क्या नौसेना की असफलता?

ND|
मुंबई की आतंकवादी घटना के बाद नौसेना प्रमुख एडमिरल मेहता ने नौसेना की खामी को स्वीकार किया। निश्चित रूप से भारतीय नौसेना की क्षमता पर किसी को शक नहीं। संयोग से आज नौसेना दिवस है... जानते हैं कि नौसेना की क्षमताएँ क्या हैं और कहाँ खामियाँ हैं।

* हमारी समुद्री सीमा 5422 किमी है तथा 1197 द्वीपों के कारण यह 2094 किमी और बढ़ जाती है। इसकी सुरक्षा के लिए नौसेना, कोस्टल गार्ड ही प्रमुख रूप से जिम्मेदार हैं।

* मुंबई की घटना में कोस्टल गार्ड्‌स को खरीदे जाने की बातें सामने आई हैं।
* कोस्टल गार्ड्‌स के पास पर्याप्त उपकरण नहीं हैं।
* भारतीय नौसेना दूसरी सेना से लड़ने में सक्षम है परंतु आतंकी घटनाओं से निपटने में वे अपनी भूमिका अभी भी तलाश नहीं पाए हैं।

* नौसेना और कोस्टल गार्ड व समुद्री सीमा में लगे अन्य संगठनों के बीच आपसी तालमेल बिलकुल नहीं है।

* भारतीय नौसेना देश की सीमा से बाहर जाकर समुद्री डाकुओं से मुकाबला कर सकती है, लेकिन देश की सीमा में घुस रहे आतंकवादियों को रोक पाने में वह सफल नहीं हो पाई।(नईदुनिया)



और भी पढ़ें :