Corona से जंग में PM मोदी की सप्तपदी, जानिए हिन्दू धर्म में 7 का महत्व

yoga and dharma
पुनः संशोधित मंगलवार, 14 अप्रैल 2020 (18:05 IST)
के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशव्‍यापी लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया है। देश को दिए अपने संबोधन में मोदी ने अपने भाषण में सप्तपदी यानी 7 बातों पर अमल करने को कहा। पीएम मोदी के मुताबिक इन 7 बातों को मानने के बाद हम कोरोना को हरा सकेंगे। हिन्दू धर्म में 7 अंक का बड़ा महत्व माना गया है। प्रकृति और मनुष्य के जीवन में 7 अंक गहरा प्रभाव डालता है। आइए जानते हैं हिन्दू धर्म में कौनसी 7 चीजें हैं।
सात छंद : अथर्ववेद में मुख्यतः 7 छंदों-

गायत्री, उष्णिक, अनुष्टुप, वृहती, पंक्ति, त्रिष्टुप, जगती का वर्णन है।
सात सुर : षडज, ऋषभ, गांधार, मध्यम, पंचम, धैवत, निषाद।
सात चक्र : सहस्त्रार, आज्ञा, विशुद्ध, अनाहत, मणिपुर, स्वाधिष्ठान, मूलाधार।
सात ऋषि : वशिष्ठ, विश्वामित्र, कण्व, भारद्धाज, अत्रि, वामदेव, शौनक।
सात महाद्वीप : जम्बूद्वीप, प्लक्षद्वीप, शाल्मलीद्वीप, कुशद्वीप, क्रौंच द्वीप, शाकद्वीप, पुष्करद्वीप
सात धातु : मनुष्य के शरीर में सात धातु- रस, रक्त, मांस, मेद, अस्थि, मज्जा, वीर्य।
सात पाताल : अतल, वितल, सुतल, तलातल, महातल, रसातल, पाताल।
सात पुरी : मथुरा, हरिद्वार, काशी, अयोध्या, उज्जैन, द्वारका, कांची।
सात‍ मिट्टी : गौशाला, घुड़साल, हाथीसाल, राजद्वार, बाम्बी की मिट्ठी, नदी संगम, तालाब।
सात पाप : अभिमान, लोभ, क्रोध, वासना, ईर्ष्या, आलस्य, अति भोजन
सात प्रकार के स्नान : मंत्र स्नान, मौन स्नान, अग्नि स्नान, वायव्य स्नान, दिव्य स्नान, मसग स्नान और मानसिक स्नान।


और भी पढ़ें :