सोशल मीडिया पर चहक रही है हिन्दी

WD|
सोशल मीडिया दो नामों से आरंभ हुई थी। फेसबुक और ऑरकूट। आज हर दिन एक नया नाम हमारे सामने है। संवाद बनाए रखने के लिए, रिश्तों में रोमांच सजाए रखने के लिए और अनुभूतियों में ताजगी बनाए रखने के लिए सोशल मीडिया के सिवा आज कोई विकल्प नहीं।
आंकड़ों का यह सच रोमांच और अचरज से भरा है कि व्हाट्स एप पर प्रत्येक सेकंड में करीब, 2,50,000 संदेश भेजे जाते हैं उनमें हिन्दी के संदेश दूसरे स्थान पर हैं। हमें गर्व है कि हिन्दी यहां कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ रही है। अब सभी सोशल मीडिया पर हिन्दी में लिखना आसान हो गया है। केवल वेब ब्राउज़र पर एक टूल इंस्टॉल करने मात्र से हिन्दी टाइप करने में माहिर हो सकते हैं।

ट्विटर ने हिन्दी यूजर की बढ़ती संख्या और अपनी लोकप्रियता का विस्तार करने के लिए हिन्दी के को अपने ट्रेंड में शामिल करने का फैसला किया।

भारत-पाकिस्तान के बीच खेले गए मैच के दौरान #जयहिन्द हैशटैग खासा चर्चा में रहा था। इसे ट्विटर पर पहला हिन्दी हैशटैग होने का गौरव हासिल हुआ था। इसी तरह महाशिवरात्रि पर #हरहरमहादेव हैशटैग इंडिया ट्रेंड में शीर्ष में शामिल रहा। ट्विटर ने अपनी इस शुरुआत को ग्लोबल हैशटैग नाम दिया।

क्या है हैशटैग?
हैशटैग (#) आज किसी निश्चित विषय पर ग्रुप ट्वीट करने का प्रमुख जरिया बन गया है। हैशटैग एक प्रतीक चिह्न है। इसे कंप्यूटर प्रोग्रामिंग की भाषा के लिए तैयार किया गया था। कंप्यूटर के कीबोर्ड में यह मौजूद है।



और भी पढ़ें :