सर्दियों में बनाएं अपने immune system को मजबूत, अपनी डाइट का रखें ख्याल

Khoon ki kami
Healthy Tips
सेहतमंद जिंदगी के लिए सही और संतुलित भोजन लेना बहुत जरूरी होता है। भोजन सिर्फ पेट भरने का ही काम नहीं करता है बल्कि ये आपको पोषक तत्व भी प्रदान करता है ताकि आप स्वस्थ रह सकें। सर्दी का मौसम आ चुका है और ऐसे में सर्दी-जुकाम व बुखार होना आम हो जाता है। लेकिन कोरोना काल में सर्दी-जुकाम होना अब आम बात नहीं रह गई है इसलिए इनसे दूरी ही भली। बीमारियों से दूरी बनाए रखने के लिए शरीर को अंदर से मजबूत करना जरूरी होता है और वो काम करता है आपका इम्यून सिस्टम। रोग प्रतिरोधक क्षमता की मदद से आप रोगों से लड़ सकते हैं और स्वस्थ जीवन जी सकते हैं। अगर मौसम को ध्यान में रखते हुए खाद्य पदार्थों का सेवन किया जाए तो मनुष्य कई तरह की बीमारियों से बेहद आसानी से बच सकता है। तो आइए जानते हैं कि सर्दी के मौसम में खाने में किन बातों का ख्याल रखना चाहिए ताकि आपका मजबूत रह सके।
सर्दी के मौसम में आप अपनी डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियों को जगह दें, जैसे पालक, साग, मैथी की सब्जी आदि को जरूर खाएं। ये आपके शरीर में विटामिन की कमी पूरी करने में मदद करते हैं, साथ ही इनके सेवन से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होगी। इसके साथ ही इस बात का ख्याल रखें कि आपको संतुलित आहार का सेवन करना है।

विटामिन सी का सेवन करना आपके लिए बहुत लाभकारी होता है। ऐसे खाद्य पदार्थों को चुनें जिनमें विटामिन सी की अच्छी मात्रा हो, जैसे संतरा, आंवला, नींबू आदि विटामिन सी युक्त फलों और सब्जियों को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।
सर्दी के मौसम में नियमित रूप से रात में सोने से पहले हल्दी वाले दूध का सेवन जरूर करें। हल्दी का दूध इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है।

अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए अदरक व लहसुन का सेवन करें। इसके अलावा कालीमिर्च व हल्दी का भी इस्तेमाल करें। ये ऐसी चीजें हैं, जो आपके इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने का काम करती हैं।

अक्सर लोग सर्दी के मौसम में पानी कम ही पीते हैं, क्योंकि सर्दी के मौसम में प्यास भी कम लगती है। लेकिन आपको ये गलती नहीं करनी है। आपको अपने वॉटर इनटेक का पूरा ख्याल रखना है ताकि आपके शरीर में पानी की कमी न हो। पानी आपकी बॉडी को डिटॉक्स करने का काम करता है यानी शरीर में जमे विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है इसलिए सर्दी के मौसम में शरीर में पानी की कमी न होने दें।




और भी पढ़ें :