अगर आप भी व्रत में खाते हैं कुट्टू का आटा, तो जान लीजिए 5 जरूरी बातें

5 precautions to take while buying Buckwheat
में खाने के लिए कम ही विकल्प आपके पास मौजूद होते हैं, उन्हीं में से एक है कुट्टू का आटा। इसे आमतौर पर उपवास में खाया जाता है , इसके कई तरह के पकवान बनते है जैसे पूरी, पकोड़े, परांठे आदि। कुट्टू के आटे से बनी चीजें व्रत में आपकी भूख तो शांत कर देती है, लेकिन अगर इसे खरीदते समय कुछ सावधानियां नहीं बरतीं, तो ये आपके के लिए हानिकारक भी हो सकता है।

1 कूट्टू का आटा खरीदते समय इस बात का ध्यान रखें कि यह आटा बहुत ज्यादा समय से रखा हुआ या पुराना न हो।

2 कुट्टू का आटा छूकर देखें, यह खुरदुरा न हो और ना ही इसमें बीच-बीच में काले दाने नजर आएं, क्योंकि ऐसा होने का मतलब है कि इसमें फंगस है या गने वाला है।

3 कुट्टू का आटा लेते समय इस बात को अच्छी तरह जांच-परख लें कि इसमें कीड़े न हों। कई बार आटे में सफेद रंग के इतने महीन कीड़े होते हैं, कि आप इन्हें आसानी से देख नहीं पाते।
4 बाजार से कुट्टू का आटा खरीदते समय खुला आटा लेने से बचें, इसकी जगह पैकेट में बंद आटा खरीदें क्योंकि इसमें फंगस लगने की संभावना कम होगी।

5 आटे का इस्तेमाल करते वक्त इसे छानना बिल्कुल न भूलें, ताकि इसमें अगर अवांछित तत्व हों भी तो अलग हो जाएं।

 

और भी पढ़ें :