जानिए किताबों का ध्यान कैसे रखना चाहिए


किताबें एक बहुमूल्य वस्तु होती है। इसका भी उतना ही महत्त्व है जितना किसी आभूषण का। युवाओं में भी अब किताबों के प्रति रुझान दिख रहा है। पुस्तक मेलों में अब अच्छी खरीददारी दिखती है। ऐसे में किताबें खरीदने के साथ उनकी देखरेख की भी जरूरत रहती है। साथ ही इन्हें मौसम की मार से भी बचाना चाहिए। आइए जानते हैं -

1 किताबों को मौसम से बचने के लिए उन्हें या पेपर से कवर कर के रखें। ऐसे में वह सीधे संपर्क में नहीं आती है।

2 अक्सर लोगों को अपनी किताबें प्रदर्शित करने की इच्छा होती है जिसे वह शान समझते हैं। इसलिए वह किताबें खुली रखते हैं। पर ऐसा करना गलत होता है। किताबों को नमी और गन्दगी से बचाने के लिए बंद अलमारी में रखना चाहिए।
3 किताबों में ठण्ड और बारिश में छोटे-छोटे कीड़े आ जाते हैं जो उनकी उम्र कम कर देते हैं। ऐसे में किताबों को धूप दिखाना भी आवश्यक होता है। उन्हें बारिश के बाद धूप जरूर दिखाना चाहिए।

4 किताबों की अलमारी में नेप्थलीन बॉल्स डालकर रखें जिससे किताबें कीड़ों से बच सके।
5 किताबों की और उनकी अलमारी की सफाई करते रहें। किताबों को भी खोलकर देखें और उनका स्थान भी बदलते रहें।

6 किताबों को यदि अलमारी में नहीं रखते हैं तो उन्हें किसी डब्बे में कपडा और प्लास्टिक से ढांक कर रखें। ऐसे में एक के ऊपर एक रखते हैं तो अधिक भार ना होने दें। किसी भी किताब पर अधिक वजन है होना उसकी आयु कम कर देता है।

7 जो किताबें बेहद पुरानी हो गई है और उनकी स्थिति अच्छी नहीं है तो उनके पन्नों के बीच रखें। ऐसे में उनके पन्ने चिपकेंगे नहीं।

8 यदि किताब के पन्ने बिलकुल अलग-अलग हो रहें हैं और फट भी रहे हैं तो ऐसी किताबों की जरूर करवा लें।



और भी पढ़ें :