शनिवार, 20 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. धर्म-संसार
  2. व्रत-त्योहार
  3. गंगा दशहरा
  4. Ganga Dussehra Daan
Written By
Last Modified: गुरुवार, 9 जून 2022 (14:43 IST)

गंगा दशहरा के दिन जल, अन्न, फल, वस्त्र, घी, नमक, शक्कर सहित 10 दान होते हैं शुभ

गंगा दशहरा के दिन जल, अन्न, फल, वस्त्र, घी, नमक, शक्कर सहित 10 दान होते हैं शुभ - Ganga Dussehra Daan
9 जून 2022 ज्येष्ठ माह की दशमी को गंगा अवतरण दिवस मनाया जाता है। इसे गंगा दशहरा भी कहते हैं। इस दिन गंगा स्नान, पूजा और दान करने से पुण्य की प्राप्ति होती है। आओ जानते हैं 10 शुभ दानों के बारे में।
 
गंगा दशहरा के 10 शुभ दान (10 Daan) : गंगा दशहरे के दिन श्रद्धालुजन जिस भी वस्तु का दान करें, उनकी संख्या 10 होनी चाहिए और जिस वस्तु से भी पूजन करें, उनकी संख्या भी दस ही होनी चाहिए, ऐसा करने से शुभ फलों में वृद्धि होती है। दक्षिणा भी 10 ब्राह्मणों को देनी चाहिए। 10 दान : जल, अन्न, फल, वस्त्र, पूजन व सुहाग सामग्री, घी, नमक, तेल, शकर और स्वर्ण।
 
दान-पुण्य एवं पूजन: इस दिन 10 का विशेष महत्व है, क्योंकि यह दिन 10 प्रकार के पापों का नाश करने वाला भी माना जाता है। इस दिन 10 पंडितों को 10 तरह के दान दिए जाते हैं। इस दिन गंगा में 10 डुबकी लगाएं। मां गंगा की पूजा में जिस भी सामग्री का उपयोग करें उसकी संख्या 10 ही होनी चाहिए। जैसे 10 दीये, 10 तरह के फूल, 10 दस तरह के फल आदि। 
 
गंगा दशहरा के दिन गंगा माता का पूजन पितरों को तारने तथा पुत्र, पौत्र व मनोवांछित फल प्रदान करने वाला माना गया है। ऐसा करने से मनुष्य को मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। स्नान के बाद अपनी श्रद्धा अनुसार गरीबों में दान-पुण्य करें। इस दिन अगर आप 10 चीजें दान करते हैं तो अत्यंत शुभ फल मिलता है।
ये भी पढ़ें
Nirjala Ekadashi 2022 : निर्जला एकादशी पर कामधेनु अनुष्ठान से मिलेगा अश्वमेध यज्ञ का फल