इंदौर में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए दुकानें खुली रहेंगी

पुनः संशोधित मंगलवार, 24 मार्च 2020 (22:01 IST)
इंदौर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश में पूर्ण रूप से 21 दिनों के 'लॉकडाउन' के बाद आवश्यक सामान एकत्रित करने के लिए लोग बाजार में टूट पड़े हैं।
इसी बीच संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने आज संभाग के सभी ज़िलों के कलेक्टर से चर्चा कर आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति निरंतर सुनिश्चित रखने के निर्देश दिए हैं।




कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव ने बताया है कि इंदौर में सब्ज़ी किराना दवाइयों जैसे आवश्यक वस्तुओं की दुकानें कल और आगे भी खुली रहेंगी। नागरिक धैर्य रखें और भयभीत न हों। किसी भी वस्तु की कमी नहीं होने दी जाएगी। निरंतर लागू है अतः भीड़ एकत्रित नहीं होने दें।
उन्होंने कहा कि नागरिक भीड़ का हिस्सा नहीं बनें। चोईथराम सब्जी मंडी के लिए स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि यहां पर व्यक्तिगत रूप से ग्राहक नहीं पहुंचे।
नागरिकगण अपने पास पड़ोस और निकट की सब्जी दुकानों से सब्जियां खरीदें। सब्जी मंडी में केवल छोटे विक्रेता ही थोक विक्रेता से सब्जी लेने जा सकेंगे।
वेबदुनिया की अपील : वेबदुनिया भी शहर के नागरिकों से अपील करता है कि वे 21 दिन के लॉकडाउन को लेकर अनावश्यक रूप से भयभीत न हों और न ही बहुत ज्यादा मात्रा में घरेलू सामान का संग्रहण करें। सरकार ने के संक्रमण को रोकने के लिए ऐसा कठोर कदम उठाया है।

यह निर्णय आपके, आपके परिवार के और देशहित के लिए लिया गया है। सरकार और स्थानीय प्रशासन ने आश्वस्त किया कि जरूरी सामान की आपूर्ति में कोई कमी नहीं आएगी। फिलहाल धैर्य रखने का समय है। लोग अपने घरों में रहें ताकि कोरोना से जंग में हम कामयाब हो सकें।
इंदौर में कोई भी मरीज पॉजिटिव नहीं : इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि अभी तक इंदौर में कोई भी कोरोना का मरीज नहीं पाया गया। इंदौर में जद्दा से जो फ्लाइट आई थी, उनके सभी यात्रियों की जांच कर ली गई है और उनमें भी कोई भी पोजिटिव नहीं पाया गया। उनमें से 35 को 14 दिनों तक घरों में रहने की सलाह दी गई है।

डॉ. प्रवीण ने कहा कि इंदौरवासियों को डरने कि जरूरत नहीं। वे घर पर रहें, सुरक्षित रहें। स्वास्थ्य विभाग रात-दिन कम में जुटा है। हम नागरिकों से अपील करते है कि फालतू घर से न निकलें और खुद की हिफाजत करें।


और भी पढ़ें :