लॉकडाउन के बीच RBI ने दी बड़ी राहत, लोन की EMI चुकाने की मोहलत को 3 माह बढ़ाया

Last Updated: शुक्रवार, 22 मई 2020 (11:40 IST)
नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने कोरोना वायरस के मद्देनजर कर्ज अदायगी के लिए ऋण स्थगन को 3 महीनों के लिए बढ़ा दिया है। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी।
रिजर्व बैंक ने सभी तरह के मोराटोरियम की अवधि 3 माह तक बढ़ा दी है। अब जून से अगस्त तक होम लोन, ऑटो लोन, क्रेडिट कार्ड बिल आदि पर 3 माह की राहत मिल सकेगी।
इससे पहले मार्च में केंद्रीय बैंक ने एक मार्च 2020 से 31 मई 2020 के बीच सभी सावधि ऋण के भुगतान पर 3 महीनों की मोहलत दी थी।

मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की अचानक हुई बैठक में वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए रेपो दर में कटौती का निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया। इस कटौती के बाद रेपो दर घटकर चार प्रतिशत हो गई है, जबकि रिवर्स रेपो दर 3.35 प्रतिशत हो गई है।
आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता वाली एमपीसी ने पिछली बार 27 मार्च को रेपो दर (जिस दर पर केंद्रीय बैंक बैंकों को उधार देता है) में 0.75 प्रतिशत की कमी करते हुए इसे 4.14 प्रतिशत कर दिया था।



और भी पढ़ें :