कोरोना काल में RBI का बड़ा ऐलान, 0.4 प्रतिशत घटाई ब्याज दर, लोन लेना आसान

Last Updated: शुक्रवार, 22 मई 2020 (11:01 IST)
नई दिल्ली। भारतीय (RBI) प्रमुख शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए रेपो दर में कमी का ऐलान किया। रिवर्स रेपो दर में कोई कमी नहीं की गई है। प्रेस कॉन्फ्रेंस से जुड़ी खास बातें... - रेपो रेट 0.4 प्रतिशत कम किया,
4.4 से घटकर 4.0 हुई रेपो दर। लोन लेना होगा आसान
- ने निर्यात ऋण अवधि को एक साल से बढ़ाकर 15 महीने किया।
- रिजर्व बैंक सिडबी को 90 दिनों के लिए 15,000 करोड़ रुपए की पुनर्वित्त सुविधा देगा
- आरबीआई ने कोविड-19 के मद्देनजर कर्ज अदायगी के लिए ऋण स्थगन को 3 महीनों के लिए बढ़ाया।
- वित्त वर्ष 2020-21 में जीडीपी की वृद्धि नकारात्मक रहेगी।
- आरबीआई ने एक्जिम बैंक को 15,000 करोड़ रुपए की ऋण सुविधा दी।
- अप्रैल में निर्यात में 60.3 प्रतिशत की कमी।
- खाद्यान्न उत्पादन में बढ़ोतरी हुई।
- दाल की बढ़ी हुई कीमत चिंता का विषय, महंगाई दर कम होने की उम्मीद।
- अच्छे मानसून अनुमान से उम्मीदें।
-कोरोना से अर्थव्यवस्था को नुकसान। 2 महीने दुनिया लॉकडाउन में रही। लॉकडाउन में मांग में कमी आई।
-सर्विस सेक्टर में भी बड़ा नुकसान, मांग और उत्पादन दोनों में कमी आई।
-रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं।
- कोरोना काल में आरबीआई ने घटाई ब्याज दर, अब बैंकों को कम ब्याज दर पर लोन देगा रिजर्व बैंक।


और भी पढ़ें :