दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच केजरीवाल सरकार ने चलाया जागरूकता अभियान, मुफ्त में बांटे मास्क

Last Updated: रविवार, 22 नवंबर 2020 (19:50 IST)
नई दिल्ली। मुख्यमंत्री के आह्वान पर आम आदमी पार्टी के विधायकों और निगम पार्षदों ने आज दिल्लीवासियों की जिंदगी को बेहतर बनाने और उन्हें कोरोना के संक्रमण से बचाव का लक्ष्य लेकर पूरी दिल्ली में वितरण एवं जागरूकता अभियान की शुरुआत की।
आम आदमी पार्टी के विधायकों एवं निगम पार्षदों ने पूरी दिल्ली में अपने अपने विधानसभा क्षेत्रों और वार्डों में मास्क वितरण मुहिम की शुरुआत की। सभी विधायकों और निगम पार्षदों ने अपने-अपने क्षेत्रों में कार्यकर्ताओं के साथ बिना मास्क घूम रहे लोगों को मास्क दिए। मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील भी की।

दिल्ली में दोबारा से कोरोना मरीज़ों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह कदम उठाया है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस महामारी के खतरे के बारे में जागरूक जा सके। लोगों को बताया जा सके कि मास्क पहनकर और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करके इस बीमारी से बचा जा सकता है।

केजरीवाल की अगुवाई में आप सरकार दिल्ली की जनता को इस महामारी से बचाने के लिए और भी अन्य कई महत्वपूर्ण कदम उठा रही है। दिल्ली के अस्पतालों में आईसीयू बेड की संख्या बढ़ाने पर भी पूरा जोर दिया जा रहा है। सरकारी अस्पतालों के साथ साथ निजी अस्पतालों में 60 प्रतिशत साधारण बेड और 80 प्रतिशत आईसीयू बेड कोरोना के मरीजों के लिए रिजर्व किए गए हैं।
इसी मुहिम के तहत आम आदमी पार्टी के सौरभ भारद्वाज ने अपनी विधानसभा क्षेत्र ग्रेटर कैलाश के एम ब्लॉक मार्केट में कार्यकर्ताओं के साथ मास्क वितरण एवं जागरूकता अभियान की शुरुआत की। भारद्वाज ने बाजार में बिना मास्क के घूम रहे लोगों को मुफ्त मास्क दिए। साथ ही उन लोगों को घर से बाहर निकलते वक्त हमेशा मास्क पहनने की सलाह दी।

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि यह बीमारी केवल दिल्ली या भारत में ही नहीं है, अपितु पूरा विश्व इस महामारी की मार झेल रहा है। चूंकि अभी तक इस बीमारी की कोई दवा नहीं बनी है तो सिर्फ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करके और मास्क पहनकर हम अपनी, अपने परिवार वालों की और अन्य लोगों के जीवन की सुरक्षा कर सकते हैं।

दिल्ली सरकार में कैबिनेट मंत्री और बल्लीमारान विधानसभा से आप विधायक इमरान हुसैन ने भी अपनी विधानसभा क्षेत्र के सदर थाना चौक पर मास्क वितरण का और लोगों को जागरूक करने का काम किया। जो लोग बिना मास्क के घूम रहे थे, इमरान हुसैन ने उन लोगों को मास्क दिए और मौके पर ही अपने सामने मास्क पहनने का आग्रह किया। हुसैन ने बाजार में मौजूद तमाम लोगों को सरकार द्वारा तय किए गए जुर्माने की जानकारी देते हुए बताया कि यदि आप बिना मास के पकड़े गए तो सरकार ने 2000 रुपए का जुर्माना तय किया है। उन्होंने कहा कि बेहतर है कि 2000 रुपए का जुर्माना भरने की बजाय 10 रुपए का मास्क खरीद कर पहना जाए ताकि आपके जीवन की, आपके परिवार वालों के जीवन की और अन्य तमाम लोगों के जीवन की सुरक्षा हो सके।
मालवीय नगर के विधायक सोमनाथ भारती ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ गौतम नगर नाला सुदर्शन सिनेमा रोड के पास से जनता को मुफ्त मास्क वितरण और कोरोना महामारी के बारे में जागरूकता अभियान की शुरुआत की। सोमनाथ भारती ने लोगों को मास्क बांटते हुए कहा कि यदि आपको अपने परिवार वालों से प्रेम है, यदि आप उनके जीवन की चिंता करते हैं, तो कृपया बिना मास्क के अपने घर से बाहर न निकले, क्योंकि कोरोना बीमारी का अभी तक पूरे विश्व में कोई इलाज सामने नहीं आया है। यदि आप चाहते हैं कि आप और आपके परिवार के तमाम लोग सुरक्षित रहें, तो उसका केवल और केवल एक ही तरीका है और वह है सही तरीके से मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना।

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन खुलने के बाद से लोगों में एक भ्रम-सा फैल गया है कि शायद कोरोना बीमारी खत्म हो गई है। परंतु ऐसा बिलकुल नहीं है। लोग बिना सावधानी के, बिना नियमों का पालन किए खुलेआम बाजारों में घूम रहे हैं और उसी का नतीजा यह हुआ कि दिल्ली में एक बार फिर से कोरोना के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने लगी है। उन्होंने बाजार में घूम रहे तमाम लोगों से अपील की कि आप सभी लोग घर से बाहर निकलते वक्त हमेशा मास्क पहने, जरूरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकले, सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण रूप से पालन करें और इस महामारी से लड़ने में दिल्ली सरकार का सहयोग करें।
पूर्वी दिल्ली नगर निगम से नेता विपक्ष एवं करावल नगर वार्ड से निगम मनोज त्यागी ने अपने क्षेत्र के एफ ब्लॉक, 30 फुटा रोड, गोयल ऑटोमोबाइल के नजदीक मास्क वितरण और लोगों को जागरूक करने के इस अभियान की शुरुआत की। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जनता को इस महामारी से बचाने के लिए तमाम महत्वपूर्ण कदम उठा रहे हैं। वे पुरजोर कोशिश कर रहे हैं कि दिल्ली के एक भी व्यक्ति को कोरोना की वजह से अपनी जान न गंवानी पड़े। सरकार के स्तर पर जो भी किया जा सकता है, वह सभी काम कर रहे हैं। दिल्ली की जनता के हित में उन्होंने केंद्र सरकार से भी मदद मांगी है, विपक्षी पार्टियों से भी सहायता की अपील की है।



और भी पढ़ें :