चुनाव और त्योहारी सीजन में बरती गई लापरवाही से Corona विस्फोट, इंदौर में रिकॉर्ड 546 नए मरीज

Last Updated: बुधवार, 25 नवंबर 2020 (00:25 IST)
इंदौर। update : चुनाव व त्योहारी सीजन में बरती गई लापरवाही से शहर में कोरोना विस्फोट होता नजर आ रहा है। शनिवार को कोरोनावायरस (Coronavirus) का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा सामने आया। शनिवार को 546 नए पॉजिटिव मामले सामने आए। इसमें 40 रिपीट मामले हैं।
शनिवार देर रात जारी मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक, शनिवार को 5255 सेंपल टेस्ट किए गए। इनमें से 4668 की रिपोर्ट निगेटिव आई। 546 नए संक्रमितों के साथ ही जिले में कुल संख्या 37661 पर पहुंच गई है। 9 नई मौतों के साथ जिले में कोरोना से का आंकड़ा 731 मौतों पर पहुंच गया।

अब तक 34104 मरीज कोरोना से स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। जिले में 2825 मरीजों का इलाज चल रहा है। चुनाव व त्योहारी सीजन में बरती गई लापरवाही का नतीजा है कि इतने नए संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। के कई इलाके ऐसे हैं, जहां थोकबंद मरीज सामने आ रहे हैं।

स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि कोरोना के केस कम होने पर लोगों में संक्रमण का डर खत्म हो गया था, जिसके चलते वह सैनिटाइजर का उपयोग कम करने लगे। इस लापरवाही के कारण संक्रमितों की संख्‍या बढ़ रही है।

नाइट कर्फ्यू का ऐलान : कोरोना विस्फोट के बाद मुख्यमंत्री ने इंदौर सहित प्रदेश के 5 जिलों में रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू का ऐलान किया। शाम को आपदा प्रबंधन समिति ने भी कई बड़े फैसले लिए।

समिति ने निर्णय लिया कि हॉल में शादी होती है तो उसमें 100 लोगों की अनुमति एवं ओपन ग्राउंड में 200 लोगों की अनुमति एसडीएम एवं थाना प्रभारी से लेना आवश्यक रहेगा। टेंट एवं कैटरिंग व्यवसाय करने वाले को रात्रि में कार्य करने और ट्रांसपोर्टिंग हेतु छूट दी जा रही है, जिसमें प्रोप्राइटर का आइडेंटी कार्ड सभी लेबर के पास होना आवश्यक होगा।



और भी पढ़ें :