मंगलवार, 16 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. कोरोना वायरस
  4. coronavirus in delhi
Written By
Last Updated : मंगलवार, 11 अप्रैल 2023 (21:29 IST)

Covid-19 : दिल्ली में कोरोना के मामलों में बड़ा उछाल, बीते 24 घंटे में 980 नए केस और 2 मरीजों की मौत; 26% के करीब पॉजिटिविटी रेट

Covid-19 : दिल्ली में कोरोना के मामलों में बड़ा उछाल, बीते 24 घंटे में 980 नए केस और 2 मरीजों की मौत; 26% के करीब पॉजिटिविटी रेट - coronavirus in delhi
नई दिल्ली। देश की राजधानी में कोरोना खतरनाक रफ्तार पकड़ता जा रहा है।  मंगलवार को कोरोना के करीब एक हजार नए मामले सामने आए। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 980 नए मामले सामने आए और इस दौरान 2 मरीजों की मौत हो गई। दिल्ली में फिलहाल  संक्रमण की दर 25.98 प्रतिशत है।
 
कोरोना की लड़ाई की तैयारी : कोविड संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए देशभर में आयोजित की गई दो दिन की कोविड मॉक ड्रिल मंगलवार को सफलतापूर्वक संपन्न हो गई।
 
केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने यहां बताया कि कोविड के खिलाफ लड़ाई में बड़े पैमाने पर देशव्यापी अभ्यास में 35 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 724 जिलों में दो दिवसीय मॉक ड्रिल सफलतापूर्वक आयोजित की गई।
 
कई राज्यों में कोविड संक्रमण के मामलों में वृद्धि के बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 28 मार्च, को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को लिखा था और 10 और 11 अप्रैल, को सभी स्वास्थ्य सुविधाओं केंद्र में मॉक ड्रिल आयोजित करने को कहा था।
 
मॉक ड्रिल में कुल 33,685 स्वास्थ्य सुविधा केंद्र शामिल किए गए। इसमें 28,050 सरकारी और 5,635 निजी स्वास्थ्य सुविधा केंद्र शामिल हैं। सरकारी सुविधाओं में सरकार शामिल है। मॉकटेल में मेडिकल कॉलेज, सरकारी अस्पताल, जिला सिविल अस्पताल, सीएचसी के साथ-साथ एचडब्ल्यूसी और पीएचसी, निजी स्वास्थ्य सुविधा केंद्रों ने भाग लिया।
 
मॉक ड्रिल के दौरान ऑक्सीजन बेड, आइसोलेशन बेड, वेंटिलेटर, पीएसए प्लांट, एलएमओ, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ-साथ दवाओं और पीपीई किट सहित महत्वपूर्ण चिकित्सा बुनियादी ढांचे और संसाधनों की जांच की गयी।
 
राष्ट्रव्यापी मॉक ड्रिल की तैयारी के लिए राज्य और जिला निगरानी इकाइयों के साथ ऑनलाइन तीन दिन का प्रशिक्षण आयोजित किया गया था। इन प्रशिक्षणों में राज्य और जिला निगरानी इकाइयों द्वारा निभाई जाने वाली भूमिका पर ध्यान केंद्रित किया गया था। Edited By : Sudhir Sharma