उत्तरप्रदेश में कोरोना वायरस से दो की मौत

अवनीश कुमार| पुनः संशोधित बुधवार, 1 अप्रैल 2020 (18:01 IST)
लखनऊ। में करोना वायरस ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। सोमवार देर शाम युवक की मौत के बाद उसकी जांच रिपोर्ट में करोना की पुष्टि हुई तो पूरे प्रदेश में हड़कंप मच गया। कुछ घंटों के बाद मेरठ में से पीड़ित एक वृद्ध ने दम तोड़ दिया।
मिली जानकारी अनुसार में बीआरडी मेडिकल कॉलेज के ट्रामा सेंटर रविवार को बस्ती के दरगहिया निवासी युवक को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी तो उसे दिखाने के लिए पहुंचे थे, जहां पर मेडिसिन विभाग के वार्ड नंबर 14 में उसका इलाज चल रहा था।

रविवार देर रात युवक की तबीयत बेहद ज्यादा बिगड़ जाने के चलते डॉक्टरों ने उसे आनन-फानन में आइसीयू में बने वेंटीलेटर युक्त आइसोलेशन वार्ड में उसे शिफ्ट कर दिया था, लेकिन युवक की हालत बिगड़ती ही चली गई। डॉक्टरों ने आनन-फानन में परिजनों से बाहर कहीं यात्रा करने के बारे में पूछा। इसका कोई सीधा जवाब परिजनों ने नहीं दिया।

सोमवार को उसकी सांस तेज चलने लगी और उसकी मौत हो गई थी। संदेह के आधार पर डॉक्टरों ने अस्पताल प्रशासन के निर्देश पर माइक्रोबॉयोलाजी की टीम ने उसकी लार का नमूना लेकर जांच के लिए भेज दिया था। इसकी जांच रिपोर्ट के बाद जिला प्रशासन चौंक गया जब जांच रिपोर्ट में युवक के अंदर करोना संक्रमण की पुष्टि हुई।

कुछ देर बाद मेरठ मेडिकल कालेज में भर्ती 72 वर्षीय कोरोना पीडि़त की मौत हो गई। जिस संक्रमित की मौत हुई है, वह महाराष्‍ट्र के अमरावती से आए कोरोना संक्रमित युवक का ससुर था। ससुराल आए इस युवक की 27 मार्च को रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

इसके अगले दिन पत्‍नी, तीन सालों व ससुर की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। सभी मेडिकल कॉलेज के कोरोना वार्ड में भर्ती हैं। आज ससुर की मौत हो गई। मेरठ के सीएमओ राजकुमार ने मौत की पुष्टि भी कर दी है।



और भी पढ़ें :