क्‍या एक जैसे हैं कोरोना और बर्ड फ्लू के लक्षण?

Last Updated: रविवार, 10 जनवरी 2021 (13:09 IST)
कोरोना वायरस महामारी के बीच बर्ड फ्लू के रूप में एक और खतरा सामने आया है। बर्ड फ्लू के मामलों को देखते हुए मध्यप्रदेश, राजस्थान, केरल और हिमाचल प्रदेश जैसे राज्यों में तो बर्ड फ्लू की पुष्टी भी चुकी है। ऐसे में लोगों के मन में सबसे बड़ा सवाल है कि क्या बर्ड फ्लू का कोई इलाज है? और इसके लक्षण कैसे होते हैं।
क्या है बर्ड फ्लू का इलाज?
ज्यादातर मामलों में देखा जाए, तो मनुष्यों में बर्ड फ्लू एक गंभीर समस्या बनकर उभरता है, जिसका इलाज किसी भी हालत में घर में सम्भव नहीं है। बर्ड फ्लू होने पर अस्पताल में तुरंत इसका इलाज कराना बेहद जरूरी है। अधिकतम मामलों में आईसीयू की जरुरत होती है। क्योंकि, व्यक्ति को सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। बर्ड फ्लू के इलाज में आमतौर पर एंटीवायरल ओसेल्टामिविर का इस्तेमाल होता है।

बर्ड फ्लू से सतर्क रहने और समय पर इसका इलाज लेने के लिए सबसे जरूरी है कि समय पर इसके लक्षणों को पहचानना बहुत जरूरी है। इस मुख्य लक्षणों में बुखार आना, बैचेनी होना, शरीर में दर्द होना, सर्दी और गले में खराश होने जैसी समस्याएं बर्ड फ्लू के शुरुआती लक्षणों में से एक हैं। कई बार पेट में दर्द की समस्या, सीने में दर्द और पेट संबंधी समस्याएं जैसे दस्त की समस्या भी हो सकती है।

अगर आपको कुछ ऐसी समस्याएं समझ आती हैं तो अपना टेस्ट जरूर कराएं। गंभीर लक्षणों में सांस लेने में तकलीफ और निमोनिया जैसी समस्या के पीछे का कारण बर्ड फ्लू हो सकता है।



और भी पढ़ें :