शनि की साढ़ेसाती का धनु राशि पर क्यों होगा खास असर


शनि सभी ग्रहों में कर्म प्रधान देवता हैं। से लोगों के भाग्य बदल जाते हैं। शुभ शनि जहां राजयोग दिलता है वहीं अशुभ शनि सुख-चैन भी छीन लेता है। शनि हर ढाई साल के अंतराल में अपनी राशि बदलते हैं। 24 जनवरी 2020 से शनि धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे। इस वजह से धनु राशि पर शनि की साढ़ेसाती का अंतिम और तीसरा चरण शुरू हो जाएगा।

तीसरा चरण शनि की साढ़ेसाती का अंतिम चरण होता है। अंतिम चरण और शनि का आपकी राशि में दूसरे भाव में होने से आपकी परेशानियां कम होने लगेगी। 24 जनवरी को शनि के राशि परिवर्तन से धनु राशि पर क्या असर पड़ेगा आइए जानते हैं।

धनु राशि पर शनि की साढ़ेसाती

शनि के मकर राशि में गोचर से धनु राशि पर शनि की साढ़ेसाती का अंतिम चरण रहेगा। अंतिम चरण होने की वजह से धनु राशि के जातकों पर अब पहले की मुकाबले परेशानियां कम रहेगी।
कार्यक्षेत्र पर शनि गोचर 2020 का प्रभाव

शनि के मकर राशि में गोचर होन से धनु राशि के जातकों पर इसका सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलेगा। नौकरी में अब पहले के मुकाबले ज्यादा अच्छे प्रस्ताव मिलेंगे। लेकिन सही विकल्प को चुनना ही समझदारी होगी। व्यापार करने वालों जातकों पर भी इस गोचर का अच्छा परिणाम देखने को मिलेगा। कार्यक्षेत्र में संतुलन बनाकर चलें।

परिवार और लव लाइफ पर असर
परिवार का सहयोग मिलेगा। आपके किसी भी निर्णय में परिवार के सदस्यों का सहयोग मिलता रहेगा। जो जातक लव रिलेशन में हैं उनके लिए साल 2020 अच्छा रहेगा।




और भी पढ़ें :