शुक्रवार, 12 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. धर्म-संसार
  2. ज्योतिष
  3. ज्योतिष 2023
  4. Rahu ketu rashi parivartan 2023
Written By

राहु का गोचर 2023 : 12 राशियों में से किन 4 राशि के भाग्य में आएगी बाधाएं?

Rahu-dev
Rahu ketu rashi parivartan 2023 : करीब 18 साल 7 महीने बाद 12 अप्रैल 2022 से राहु वृषभ राशि से निकलकर मेष राशि में गोचर कर रहा है। 14 जून 2022 को राहु ने भरणी नक्षत्र में प्रवेश किया था और अब वह अगले वर्ष यानी 2023 में दूसरे नक्षत्र में प्रवेश करेगा। जबकि 30 अक्टूबर 2023 को दोपहर 12:30 पर राहु मेष से निकलकर मीन राशि में गोचर करेगा। आओ जानते हैं कि 4 राशियों के भाग्य में आएगी बाधाएं।
 
30 अक्टूबर 2023 तक राहु के मेष में ही गोचर रहेगा इस माह से जानिए कि कौनसी राशियों पर यह वर्ष रहेगा भारी | Rahu Transit 2023, Rahu Ka Rashi Parivartan Effect:
 
1. मेष : केतु आपकी राशि 7वें भाव में गोचर करेगा तब साझेदारी के कोई कार्य करवाएगा, जिसमें धोखा होने की संभावना है। यह सेहत पर भी असर डालेगा। जैसे पीठ और पैरों में दर्द होना। दूसरी ओर राहु लग्न राशि के दूसरे भाव से निकलकर पहले में गोचर करेगा। ऐसे में आपको अपमान या अचानक किसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा यहां स्थित राहु रोग और दुःख भी देता है। यह आपके जीवन के हर क्षेत्र में उथल-पुथल मचा देगा।
 
2. मिथुन : केतु आपकी राशि के पांचवें भाव में गोचर करेगा तब आपके रिश्तों में यह नकारात्मक असर डालेगा। छात्रों के लिए भी यह गोचर सही नहीं है। करियर में नुकसान हो सकता है। हालांकि शोधार्थियों के लिए यह गोचर शुभ है। सेहत के दृष्टिकोण से यह पाचन तंत्र खराब कर सकता है। किसी प्रकार की एलर्जी हो सकती है। राहु आपकी राशि के 11वें भाव में जब गोचर करेगा तब आपको अचानक से धन की प्राप्ति होने के योग बनेंगे। नौकरीपेशा हैं तो वेतन में वृद्धि होगी और व्यपारी हैं तो मुनाफा होगा। आय के साधन बढ़ेंगे आपकी के लिए राहु का गोचर शुभ साबित होगा।
rahu ketu
3. कन्या : केतु आपकी राशि के दूसरे भाव में गोचर करेगा तब आपके खर्चे बढ़ा देगा। गले में संक्रमण हो सकता है। परिवार में किसी बात को लेकर मतभेद हो सकता है। यात्रा के योग बनाएगा। हालांकि नौकरी और व्यापार पर इसका कोई खास असर नहीं होगा। राहु आपके आठवें भाव में गोचर करेगा। इस अवधि के दौरान आपकी रुचि गूढ़ रहस्यों बढ़ सकती है। व्यापार और नौकरी में कठिन परिश्रम करना होगा। सेहत का ध्यान रखना होगा।
 
4. मीन : केतु आकी राशि के आठवें भाव में गोचर करेगा तब ऐसी संभावना है कि यह परिवार का माहौल बिगाड़ देगा। पैर में चोट लग सकती है और त्वचार में संक्रमरण कर सकता है। धन कमाने के नए सोर्स का पता चलेगा। किसी भी प्रकार के निवेश के जोखिम से बचें। राहु आपके दूसरे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको अचानक से कुछ ख़र्चों का सामना करना पड़ सकता है। आपकी वाणी में कटुता आ सकती है। परिवार में किसी से संबंध खराब हो सकते हैं। गले और दांतों में समस्या हो सकती है।
 
डिस्क्लेमर : यह जानकारी ज्योतिष मान्यता, गोचर की प्रचलित धारणा आदि पर आधारित है। इसकी पुष्टि वेबदुनिया नहीं करता है। पाठक ज्योतिष के किसी जानकार से पूछकर ही कोई निर्णय लें।