अब चैलेंजिंग बन गया है बैंकिंग सेक्टर

परीक्षा तथा साक्षात्कार
पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग ऑपरेशंस के लिए एप्टियूट टेस्ट और पर्सनल इंटव्यू के आधार पर प्रवेश दिया जाता है। प्रवेश परीक्षा को आईएफबीआई पीजीडीबीओ प्रवेश परीक्षा (आईपीएटी) कहा जाता है। इस टेस्ट की अवधि 55 मिनट है। इसके अंतर्गत इंग्लिश लैंग्वेज एबिलिटी, न्यूमेरिकल एबिलिटी, लॉजिकल रिजोनिंग और बेसिक चेकिंग पर आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं।


टेस्ट का परिणाम दो कार्य दिवसों के अंदर घोषित कर दिया जाता है तथा चयनित छात्रों को साक्षात्कार हेतु बुलाया जाता है, जिसके लिए केंद्रों पर तथा आईएफबीआई वेबसाइट पर अधिसूचना जारी की जाती है। प्रवेश हेतु नामांकन प्रक्रिया साक्षात्कार कार्यक्रम से जुड़ी होती है।
साक्षात्कार में सफल प्रत्याशियों से यह अपेक्षित होता है कि वे निर्धारित फीस जमा करवाकर तुरंत नामांकन करवा लें। इसके साथ ही उन्हें इंटर्नशिप, एजुकेशन लोन, रोजगार गारंटी की जानकारी भी दी जाती है तथा नामांकन के दौरान ही उन्हें वेलकम किट भी प्रदान की जाती है।

प्लेसमेंट सर्विस

चयनित उम्मीदवारों को प्री-एम्प्लायमेंट प्लान के तहत प्रवेश दिया जाता है। पार्टनर बैंक द्वारा इनका नामांकन केे समय ही चयन कर प्रशिक्षण पश्चात सीधे रोजगार दे दिया जाता है। फिलहाल सफल प्रत्याशियों को आईसीआईसीआई बैंक में नियुक्ति प्रदान की जाती है। जो प्रत्याशी प्री-एम्प्लायमेंट ऑफर के बिना नामांकन करवाते हैं, उन्हें रोजगार दिलवाने में मदद की जाती है। ऐसे प्रत्याशियों की संख्या गिनी-चुनी होती है, क्योंकि अधिकांश प्रतिभागियों का नामांकन प्री-एम्प्लायमेंट ऑफर के साथ ही किया जाता है।
स्रोत: नईदुनिया अवसर



और भी पढ़ें :