Fact Check: मजार के नीचे खुदाई के दौरान मिली नंदी की मूर्ति? जानिए इस वायरल फोटो का पूरा सच

Last Updated: सोमवार, 13 सितम्बर 2021 (16:34 IST)
सोशल मीडिया पर इन दिनों एक फोटो खूब वायरल हो रही है। इस फोटो में एक सफेद रंग का कमरा नजर आ रहा है, जिसके बाहर हरे रंग के लोहे की रैलिंग लगी हुई है। उसके पास जमीन खुदी हुई दिख रही है और जमीन के अंदर नंदी बैल की मूर्ति नजर आ रही है। इस फोटो को शेयर कर कई सोशल मीडिया यूजर्स दावा कर रहे हैं कि के नीचे खुदाई करने पर नंदी की मूर्ति निकली।

क्या हो रहा वायरल?


ट्विटर पर एक यूजर ने फोटो को शेयर करते हुए लिखा, “ऊपर मज़ार, खुदाई किया तो नीचे नंदी, पूरे देश की यही सच्चाई है।”



इस ट्वीट को डेढ हजार से अधिक लोगों ने लाइक किया है और 700 से अधिक बार रीट्वीट किया गया है।


क्या है सच?


सोशल मीडिया पर वायरल फोटो के साथ किया जा रहा दावा फेक है। ये मूर्ति मजार के नीचे नहीं बल्कि मंदिर के पुनर्निर्माण कार्य के दौरान मिली थी।


वायरल ट्वीट पर कई यूजर्स ने कमेंट कर बताया है कि ऊपर मजार नहीं बल्कि मंदिर ही है। साथ ही, एक यूजर ने ऊपर मंदिर में नंदी की मूर्ति की ओर भी ध्यान आकर्षित करवाया।

वायरल फोटो को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें ये फोटो लॉस्ट टेंपल नाम के ट्विटर हैंडल पर मिली। ट्वीट में बताया गया है कि ये फोटो नमक्कल जिले के सेलंदियाम्मन मंदिर की है। जहां मंदिर परिसर को बढ़ाने दौरान खुदाई में जमीन के नीचे नंदी की मूर्ति मिली।



इससे हिंट लेते हुए हमने संबंधित कीवर्ड्स की मदद से गूगल पर सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें puthiyathalaimurai.com वेबसाइट की एक खबर मिली।


खबर के मुताबिक, ये फोटो तमिलनाडु के नमक्कल जिले के सेलंदियाम्मन मंदिर की है। जहां पुनर्निर्माण कार्य के दौरान नंदी की 1000 साल पुरानी मूर्ति मिली। ये खबर 5 सितंबर, 2021 को पब्लिश हुई थी।



और भी पढ़ें :