इमली का पेड़ क्यों माना जाता है रहस्यमयी

पुनः संशोधित शुक्रवार, 16 सितम्बर 2022 (19:10 IST)
हमें फॉलो करें
व्यंजनों का स्वाद बढ़ाने वाली खट्टी इमली का पेड़ बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है, लेकिन इससे जुड़े अंधविश्‍वास भी कई है। भारत में पिछले 15-20 वर्षों में इमली, आम, नींबू, करोंदे, जामुन, बेर, शहतूत, खिरनी, कबीट, बेल आदि कई के बारे में भ्रम फैलाकर इन्हें खत्म किए जाने का बाजारवादियों का षड़यंत्र मालूम होता है। आओ जानते हैं इमली के बारे में रोचक जानकारी।

1. ऐसा माना जाता है कि इमली के पेड़ पर बुरी आत्माओं का निवास होता है।

2. ऐसा कहते हैं कि इमली के आस-पास देर तक रहने से चक्कर आना, कमजोरी का एहसास होना और जी मिचलाना जैसे लक्षण नजर आते हैं संभवत: इसीलिए इसमें भूत के निवास की बात प्रचलित हुई होगी।

3. साइंटिस्ट कहते हैं कि इमली के पेड़ के आसपास के वातावरण में अम्लीयता बहुत अधिक होती है जो सेहत के लिए हानिकारक है।
4. इमली के पेड़ की लकड़ी काफी मजबूत होती है इसीलिए इससे कुल्हाड़ी का हत्‍था बनाया जाता है।

5. इमली के कई औषधीय गुण होते हैं। जैसे इसका उपयोग घाव भरने, सूजन, बुखार, नेत्र से जुड़ी बीमारी, मलेरिया, कब्ज, पेट से जुड़ी बीमारियों, पेचिश और कृमि, मधुमेह, गठिया आदि में होता है।



और भी पढ़ें :