वसंत पंचमी पर जानिए 10 काम की बातें

Last Updated: सोमवार, 15 फ़रवरी 2021 (17:48 IST)

वसंत पंचमी का पर्व को है। वसंत पंचमी का त्योहार माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी को मनाया जाता है। इस दिन मां सरस्वती की पूजा का विधान है। वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की विधि-विधान से पूजा करने वालों को विद्या और बुद्धि का वरदान मिलता है। शास्त्रों के अनुसार, वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती का जन्म हुआ था।

वसंत पंचमी के दिन क्या करना चाहिए और क्या नहीं-

1. वसंत पंचमी के दिन किसी को अपशब्द बोलने से बचना चाहिए।
2. इस दिन झगड़े से भी बचना चाहिए।
3. वसंतपंचमी के दिन मांस-मदिरा के सेवन से दूर रहना चाहिए।
4. वसंत पंचमी के दिन पितृ तर्पण भी किया जाना चाहिए।
5. इस दिन ब्रह्मचर्य का पालन करना बेहद जरूरी है।
6. वसंत पंचमी के दिन बिना स्नान किए भोजन नहीं करना चाहिए।
7. इस दिन रंग-बिरंगे कपड़े पहनने चाहिए। संभव हो तो पीले वस्त्र पहनने चाहिए।
8. वसंत पंचमी के दिन पेड़-पौधे नहीं काटने चाहिए।
9. वसंत पंचमी के दिन पितृ तर्पण भी किया जाना चाहिए।
10. इस दिन कलम, कागज, दवात का पूजन करें, स्टेशनरी के सामान का अपमान न करें।

वसंत पंचमी पूजा का शुभ समय
-

16 फरवरी को सुबह 03 बजकर 36 मिनट पर पंचमी तिथि लगेगी, जो अगले दिन यानी 17 फरवरी को सुबह 5 बजकर 46 मिनट पर समाप्त होगी।



और भी पढ़ें :