वसंत पंचमी पर इन सरल उपायों से मिलेगा विद्या, बुद्धि और वाणी का आशीर्वाद

mata saraswati

इस बार वसंत पचंमी (Vasant Panchami 2022) शनिवार, 05 फरवरी 2022 को मनाई जाएगी। हिंदू पंचांग के अनुसार प्रतिवर्ष वसंत पंचमी और देवी सरस्वती का प्राकट्‍य दिन माघ शुक्ल पंचमी तिथि को मनाया जाता है।


वसंत पंचमी (Vasant Panchami), वीणावादिनी देवी मां सरस्वती (Goddess Saraswati) की आराधना का पर्व है। मां सरस्वती विद्या, बुद्धि और वाणी का आशीर्वाद देती है। वसंत पंचमी के दिन सरस्वती पूजन के साथ-साथ निम्न उपाय करने से विद्या, बुद्धि और जीवन के संकटों के नाश होता है।

यहां आपके लिए प्रस्तुत है अचूक उपाय-Remedies

1. वसंत पंचमी की सुबह स्नानादि से निवृत्त होकर मंत्र- ॐ ह्रीं ऐं ह्रीं सरस्वत्यै नमः का तुलसी की माला से 108 बार जाप करने से विद्या और बुद्धि की प्राप्ति होती है।

2. वसंत पंचमी के दिन बुद्धि में विकास के लिए काली मां के दर्शन कर पेठा या कोई भी फल अर्पित करके ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं महा सरस्वत्यै नम:’ मंत्र का सस्वर जाप करना चाहिए।

3. वसंत पंचमी के दिन केसरयुक्त खीर का भोग देवी सरस्वती को लगाकर कन्याओं को खिलाना चाहिए।

4. वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती का ध्यान करके ‘ह्रीं वाग्देव्यै ह्रीं ह्रीं’ मंत्र का जाप करने तथा शहद का भोग लगा कर उसका प्रसाद वितरित करने से संगीत के क्षेत्र में सफलता प्राप्त होती हैं।

5. वसंत पंचमी पर देवी सरस्वती को सफेद वस्त्र अर्पित करके मनोकामना पूर्ति की प्रार्थना करने से वह मनोकामना शीघ्र ही पूर्ण होती है।

6. वसंत पंचमी के दिन गरीब या निर्धन बच्चों को पुस्तकें, कॉपी, पेन, पेंसिल तथा पढ़ाई की अन्य सामग्री दान करने से मां सरस्वती प्रसन्न होती हैं।

7. वसंत पंचमी पर पीले रंग के कपड़ों का गरीब कन्याओं को दान करना चाहिए। ये माता सरस्वती की कृपा पाने का सबसे सरल और अचूक उपाय है।
rk.


Saraswati Puja



और भी पढ़ें :