उदयपुर की घटना पर मेरठ में आतिशबाजी, 2 लोगों को गिरफ्तार किया

हिमा अग्रवाल|
हमें फॉलो करें
मेरठ। राजस्थान के उदयपुर में कन्हैया लाल की हत्या के बाद पूरे देश में रोष है, जिसके चलते जगह-जगह विरोध-प्रदर्शन भी हो रहे हैं। दूसरी ओर, मेरठ के सरूरपुर थाना क्षेत्र स्थित मैनापूठी गांव में उदयपुर हॉरर किलिंग की खुशी मनाते हुए आतिशबाजी की गई।

पुलिस ने आतिशबाजी करने के चलते मुकदमा दर्ज करते हुए कोर्ट में पेश किया और न्यायालय ने दोनों आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। वहीं, मेरठ पुलिस शहर में अमन-शांति बनाए रखने के लिए सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट पर अपनी पैनी निगाहें रखे हुए हैं।

मेरठ सरूरपुर थाना क्षेत्र स्थित मैनापूठी गांव के रहने वाले मंजूर और बुंदू ने कन्हैया लाल की हत्या का जश्न मनाते हुए गांव में ही आतिशबाजी की। एक ग्रामीण ने इसकी शिकायत स्थानीय पुलिस से कर दी। पुलिस ने मामले की गंभीरता को समझते हुए मुकदमा दर्ज किया और हर्ष-उल्लास में आतिशबाजी करने वाले पिता-पुत्र को गिरफ्तार कर लिया। दोनों ने अपना जुर्म भी कबूल किया है, वहीं पुलिस ने इन दोनों से पटाखे भी बरामद किए हैं।
पुलिस अधिकारियों के मुताबिक यह दोनों सांप्रदायिक माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे थे, जिसके चलते इन दोनों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की गई है।

मेरठ के एसएसपी का कहना है कि किसी भी हाल में मेरठ की शांति भंग नही होने दी जाएगी। यदि कोई भी सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट या मैसेज फैलाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। सोशल मीडिया की पोस्ट और मैसेज पर पुलिस की पैनी निगाहें हैं।



और भी पढ़ें :