Budget 2019 : बजट, आर्थिक आंकड़े और तिमाही परिणाम तय करेंगे निवेश धारणा

मुंबई। बीते सप्ताह गिरावट में रहे घरेलू की दिशा आगामी सप्ताह अंतरिम बजट के प्रावधानों, आर्थिक आंकड़ों, कंपनियों के तिमाही परिणामों, वाहन बिक्री के आंकड़ों, वैश्विक संकेतों और भारतीय मुद्रा की स्थिति से तय होगी।

आलोच्य सप्ताह के दौरान का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 361.07 अंक यानी 0.99 प्रतिशत की साप्ताहिक गिरावट के साथ 36,025.54 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 126.40 अंक यानी 1.16 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,780.55 अंक पर रहा।
दिग्गज कंपनियों की तुलना में छोटी और मझौली कंपनियों को बिकवाली का अधिक दबाव झेलना पड़ा। बीएसई का मिडकैप 341.57 अंक यानी 2.27 प्रतिशत की साप्ताहिक गिरावट में 14,681.82 अंक पर और स्मॉलकैप 504.40 अंक यानी 3.47 प्रतिशत की गिरावट में 14,000.20 अंक पर आ गया।
आगामी सप्ताह शेयर बाजार के लिए काफी उथल-पुथलभरा रहेगा। वैश्विक स्तर पर बुधवार और गुरुवार को होने वाली अमेरिका-चीन की बातचीत, ब्रेग्जिट को लेकर ब्रिटेन में मचे राजनीतिक घमासान तथा 29 और 30 जनवरी को होने वाली अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक के बीच वेनेजुएला के अगले कदम पर भी निवेशकों की नजर रहेगी।

घरेलू स्तर पर निवेशक 1 फरवरी को पेश किए जाने वाले अंतरिम बजट के प्रावधानों पर नजर बनाए रखेंगे। ऐसा माना जा रहा है कि केंद्र की मोदी सरकार अपने अंतिम बजट में कृषि क्षेत्र के लिए लोक-लुभावन घोषणाएं कर सकती है। गुरुवार को वित्तीय घाटे और औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े जारी होने हैं और शुक्रवार को विनिर्माण उद्योग के आंकड़े जारी होंगे। इन सभी आंकड़ों का असर निवेश धारणा पर रहेगा।
अगले सप्ताह कई दिग्गज कंपनियों के तिमाही परिणाम जारी होने और वाहन बिक्री के आंकड़े भी शेयर बाजार को प्रभावित करेंगे। अगले सप्ताह एक्सिस बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, बजाज फाइनेंस, एचसीएल टेक, बजाज ऑटो, हीरो मोटोकॉर्प, भारती एयरटेल, एचडीएफसी और एस्कॉर्ट्स अपने तिमाही वित्तीय परिणाम जारी करेंगे।

बीते सप्ताह शेयर बाजार में 5 दिन कारोबार हुआ जिसमें से 2 दिन तेजी और 3 दिन गिरावट रही। सप्ताह के पहले दिन सोमवार को अधिकतर एशियाई बाजारों से मिलीं सकारात्मक खबरों के बीच रिलायंस इंडस्ट्रीज और कोटक महिंद्रा बैंक में हुई जोरदार लिवाली के दम पर घरेलू शेयर बाजार लगातार 5वें दिन हरे निशान में रहे। इस दिन सेंसेक्स 192.35 अंक की छलांग लगाकर 36,578.96 अंक पर और निफ्टी 54.90 अंक की तेजी के साथ 10,961.85 अंक पर बंद हुआ।
मंगलवार को नकारात्मक वैश्विक संकेतों के साथ ही धातु, दूरसंचार तथा ऑटो समूहों में बिकवाली से घरेलू शेयर बाजार की लगातार 5 कारोबारी दिवस की तेजी पर ब्रेक लग गया और सेंसेक्स 134.32 अंक लुढ़ककर 36,444.64 अंक पर और निफ्टी 39.10 अंक यानी 0.36 प्रतिशत लुढ़ककर 10,922.75 अंक पर आ गया।
बुधवार को लगातार दूसरे दिन शेयर बाजार में बिकवाली जारी रही।

इस दिन विदेशी बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच एफएमसीजी, बिजली और सीडी जैसे समूहों में रही बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स 336.17 अंक की गिरावट के साथ 36,108.47 अंक और निफ्टी 91.25 अंक लुढ़ककर 10,831.50 अंक पर बंद हुआ।
गुरुवार को कमजोर निवेश धारणा के बीच रिलायंस इडस्ट्रीज, यस बैंक, टीसीएस और एचडीएफसी जैसी दिग्गज कंपनियों में लिवाली से सेंसेक्स 86.63 अंक चढ़कर 36,195.10 अंक पर और निफ्टी 18.30 अंक की बढ़त में 10,849.80 अंक पर बंद हुआ। इस दिन अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट के कारण ऊर्जा तथा तेल एवं गैस कंपनियों में तेजी रही।

शुक्रवार को विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच वाहन निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी के निराशात्मक प्रदर्शन के कारण ऑटो समूह के साथ रियल्टी और सीडीजीस समूहों में हुई बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स 169.56 अंक लुढ़ककर 36,025.54 अंक और निफ्टी 69.25 अंक की गिरावट में 10,780.55 अंक पर बंद हुआ।
आलोच्य सप्ताह के दौरान सेंसेक्स की 30 कंपनियों में से 8 कंपनियां हरे निशान में रहीं और शेष 24 लाल निशान में रहीं। सन फार्मा के शेयर 8.05 फीसदी, रिलायंस के 5.35, कोटक बैंक के 2.25, बजाज फाइनेंस के 2.18, टीसीएस के 0.98, एचसीएल टेक के 0.70, हिंदुस्तान यूनीलीवर के 0.53 और एक्सिस बैंक के 0.52 प्रतिशत की साप्ताहिक बढ़त में रहे।

देश की वाहन क्षेत्र की अग्रणी कंपनी मारुति के शेयर बीते सप्ताह सबसे अधिक 11.38 प्रतिशत की गिरावट में रहे। बीते शुक्रवार को जारी हुए मारुति के तिमाही वित्तीय परिणाम निराशाजनक रहे जिससे इसके शेयरों के दाम में तेज गिरावट दर्ज की गई। बिक्री में आई कमी और विनिमय दर में उतार-चढाव के कारण मारुति सुजुकी का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की 31 दिसंबर को समाप्त तीसरी तिमाही में 17.21 प्रतिशत घटकर 1,489.3 करोड़ रुपए रह गया। गत वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 1,799 करोड़ रुपए का मुनाफा कमाया था।
इसके अलावा हीरो मोटोकॉर्प के शेयरों में 7.71, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 7.00, टाटा मोटर्स डीवीआर में 6.50, टाटा मोटर्स में 5.41, एनटीपीसी में 4.19, आईटीसी में 4.07, आईसीआईसीआई बैंक में 3.98, टाटा स्टील में 3.79, कोल इंडिया में 3.74, पॉवर ग्रिड में 3.65, बजाज ऑटो में 3.41, भारतीय स्टेट बैंक में 3.37, ओएनजीसी में 2.80, एलएंडटी में 2.48, एशियन पेंट्स में 2.08, इंडसइंड बैंक में 1.99, एचडीएफसी बैंक में 1.75, वेदांता में 1.61, एचडीएफसी में 1.52, भारती एयरटेल में 1.25 और इंफोसिस में 0.11 प्रतिशत की गिरावट रही।

 

और भी पढ़ें :