उज्जैन में सिंहस्थ महाकुंभ का पहला शाही स्नान (लाइव)

उज्जैन| भीका शर्मा| Last Updated: सोमवार, 25 अप्रैल 2016 (12:58 IST)
उज्जैन। उज्जैन में महाकुंभ में पहले शाही स्नान के लिए जनसैलाब उमड़ पड़ा। शुरुआती सात घंटे में ही लगभग दस लाख लोग पवित्र क्षिप्रा नदी में स्नान कर चुके हैं। शाही स्नान से जुडी हर जानकारी...
* सिंहस्थ कुंभ के दौरान शुरुआती सात घंटे में ही लगभग दस लाख लोग पवित्र क्षिप्रा नदी में स्नान कर चुके हैं। * सिंहस्थ कुंभ के दौरान शुरुआती सात घंटे में ही लगभग दस लाख लोग पवित्र क्षिप्रा नदी में स्नान कर चुके हैं।
> > * मध्यप्रदेश के उज्जैन में आज से शुरू हुए सिंहस्थ के दौरान  हरिद्वार आधारित स्वामी सत्यमित्रानंद महाराज ने सिंहस्थ को जीवन में परिवर्तन लाने वाला आयोजन बताते हुए भारत माता का जयकारा लगाया।
* सबसे पहले नागा साधुओं ने क्षिप्रा में डुबकियां लगाईं। इसके बाद जूना अखाड़ा के पीठाधीश स्वामी अवधेशानंद महाराज ने परंपरा के अनुरूप मंत्रोच्चारण के साथ डुबकी लगाई। इस दौरान सिंहस्थ के प्रभारी मंत्री भूपेंद्र सिंह के अलावा वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।
* क्षिप्रा नदी के तट पर महाकाल की नगरी उज्जैन में सुबह पांच बजे से दत्त अखाड़ा क्षेत्र में शैव संप्रदाय के नागा साधुओं के एकत्रित होने का क्रम शुरू हो गया था। 
* कांग्रेस के राष्ट्रीस महासचिव और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी सिंहस्थ के पहले दिन क्षिप्रा नदी में डुबकी लगाई। उन्होंने सुबह लगभग साढ़े आठ बजे नदी में सिंहस्थ स्नान किया।
* संतों से पहले कलेक्टर, एसपी ने सपत्नीक लगाई डूबकी, जनसंपर्क आयुक्त ने भी सबसे पहले किया शाही स्नान।
* परमहंस स्वामी नित्यानंद महाराज ने अपने विदेशी भक्तों के साथ रामघाट पर लगाई डूबकी।
* आम श्रद्धालुओं को दोपहर दो बजे से रामघाट पर मिलेगी स्नान की सुविधा, रामघाट पर स्नान के लिये इंतजार कर रहे हैं श्रद्धालु।
* बड़ा उदासीन, नया उदासीन और निर्मल अखाड़ों ने रामघाट पर किया शाही स्नान, रामघाट पर उत्सवी माहौल। 
* मक्सी और शाजापुर के बीच 10 किलोमीटर का हुआ जाम। नहीं पहुंची शाजापुर पुलिस, लोग होते रहे परेशान  खेत से निकल रहे वाहन।
* दत्त अखाड़े के पास अखाड़ों के स्नान के दौरान आम जनता भी घुसी।
* शाही स्नान के दौरान उज्जैन में अव्यवस्थाएं, आम आदमी परेशान।
* पंचायती महानिर्वाणी अखाड़ा, पंचायती अग्नि अखाड़ा, पंच अटल अखाड़े ने किया शाही स्नान।  * बंदरों ने भी किया सिंहस्थ में शाही स्नान।




* जूना अखाड़े के बाद महानिर्वाणी अखाड़े ने किया शाही स्नान।
* शाही स्नान को आए संन्यासियों को देखने उमड़ी जनता।
* शाही स्नान शुरू, सबसे पहले जूना अखाड़े ने किया शाही स्नान।
* उज्जैन में शिप्रा तट पर शुरू हुआ शाही स्नान।
* सुरक्षा के लिए 25 हजार जवान तैनात किए गए हैं।
* सिंहस्थ मेला क्षेत्र को 6 जोन एवं 22 सेक्टरों में बांटा गया है।
* लगभग 5 हजार सफाईकर्मियों को मेला क्षेत्र में लगाया गया है।
* सिंहस्थ के दौरान दूसरा शाही स्नान अक्षय तृतीया पर 9 मई को और तीसरा 21 मई को होगा।
* सिंहस्थ के दौरान कुल 10 प्रस्तावित स्नान तिथियां हैं।
* कुंभ स्नानों के लिए अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की अहम भूमिका होती है। इसमें शैव एवं वैष्णव सम्प्रदाय के 13 अखाड़ों के संत प्रमुख रूप से शामिल होते हैं।




और भी पढ़ें :