मंगलवार, 16 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. धर्म-संसार
  2. व्रत-त्योहार
  3. श्राद्ध पर्व
  4. Magha Shradhh 2023
Written By

Ekadashi shradh 2023: एकादशी के दिन मघा नक्षत्र में श्राद्ध करने का है क्यों खास महत्व?

Ekadashi shradh 2023: एकादशी के दिन मघा नक्षत्र में श्राद्ध करने का है क्यों खास महत्व? - Magha Shradhh 2023
Magha Shradhh: इस वर्ष 10 अक्टूबर 2023, दिन मंगलवार को इंदिरा एकादशी व्रत रखा जा रहा है। इसके साथ ही आज आश्‍विन कृष्ण एकादशी पर मघा नक्षत्र में मघा श्राद्ध भी किया जाएगा, जिसका बहुत धार्मिक महत्व माना गया है। मत्स्य पुराण के अनुसार आश्विन कृष्ण पक्ष के मघा नक्षत्र में मघा श्राद्ध होता है। प्रदोष व्रत के साथ आने वाला यह श्राद्ध विशेष महत्व रखता है, जो कि पराक्रम, प्रतिष्ठा, लक्ष्मी तथा संतान या वंश वृद्धि करने वाला माना गया है। 

धार्मिक मान्यता के अनुसार मघा नक्षत्र के देवता पितर होते हैं। अर्थात् हमारे परिवार के जो व्यक्ति अब जीवित नहीं है, लेकिन वे आत्मा स्वरूप हमारे आसपास ही रहते हैं तथा उनकी कीर्ति काया हमेशा जीवित रहती है। अत: इन पितरों को मघा नक्षत्र में प्रसन्न करने से उनका आशीर्वाद हमें हमेशा प्राप्त होता है।
 
आइए जानते हैं मघा श्राद्ध के शुभ मुहूर्त- 
 
मघा श्राद्ध : 10 अक्टूबर 2023, मंगलवार के पूजन मुहूर्त 
 
मघा श्राद्ध मंगलवार, 10 अक्टूबर 2023 को
 
मघा नक्षत्र का प्रारंभ- अक्टूबर 09, 2023 को 09.15 पी एम से
मघा नक्षत्र समाप्त- अक्टूबर 11, 2023 को 12.15 ए एम शुरू। 
 
कुतुप मुहूर्त- 10.52 ए एम से 11.41 ए एम
अवधि- 00 घंटे 49 मिनट्स
 
रौहिण मुहूर्त- 11.41 ए एम से 12.30 पी एम
अवधि- 00 घंटे 49 मिनट्स
 
अपराह्न काल- 12.30 पी एम से 02.57 पी एम
अवधि- 02 घंटे 27 मिनट्स
 
शुभ समय
ब्रह्म मुहूर्त- 03.34 ए एम से 04.21 ए एम 
प्रातः सन्ध्या 03.58 ए एम से 05.08 ए एम
अभिजित मुहूर्त- 10.52 ए एम से 11.41 ए एम 
विजय मुहूर्त- 01.19 पी एम से 02.08 पी एम
गोधूलि मुहूर्त- 05.24 पी एम से 05.47 पी एम 
सायाह्न सन्ध्या 05.24 पी एम से 06.34 पी एम
अमृत काल 09.33 पी एम से 11.21 पी एम 
निशिता मुहूर्त- 10.52 पी एम से 11.39 पी एम तक।
 
अस्वीकरण (Disclaimer) : चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म, ज्योतिष आदि विषयों पर वेबदुनिया में प्रकाशित/प्रसारित वीडियो, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं। 'वेबदुनिया' इसकी कोई ज़िम्मेदारी नहीं लेती है।

ये भी पढ़ें
Types of Garba: कितने प्रकार का होता है गरबा? जानें गरबा करने का सही तरीका