महाशिवरात्रि मंत्र : शिव के इन शुभ श्लोक और मंत्र से शिव देते हैं मनचाहा वरदान

Lord Shiva Mantra
 
महाशिवरात्रि (2022) पर शिव (Lord Shiva) जी का पूजन किया जाता है। मनचाहा वरदान पाने, सुख-शांति, धन-समृद्धि, सफलता-प्रगति, संतान, प्रमोशन, नौकरी, विवाह, प्रेम और रोग दूर करने के लिए इन मंत्रों को अवश्य जपें। महाशिवरात्रि के शुभ अवसर पर यहां आपके लिए प्रस्तुत हैं और खास मंत्र...

शुभ श्लोक-Shlok


देवदेव महादेव नीलकण्ठ नमोऽस्तु से
कर्तुमिच्छाम्यहं देव शिवरात्रिव्रतं तव।
तव प्रसादाद्देवेश निर्विघ्नेन भवेदिति।
कामाशः शत्रवो मां वै पीडां कुर्वन्तु नैव हि॥

हे देवदेव! हे महादेव! हे नीलकंठ! आपको नमस्कार है। हे देव! मैं आपका शिवरात्रि व्रत करना चाहता हूं। हे देवश्वर! आपकी कृपा से यह व्रत निर्विघ्न पूर्ण हो और काम, क्रोध, लोभ आदि शत्रु मुझे पीड़ित न करें।

चमत्कारिक शिव मंत्र-Lord Shiva Mantra

1. ॐ शिवाय नम:

2. ॐ सर्वात्मने नम:

3. ॐ त्रिनेत्राय नम:

4. ॐ हराय नम:

5. ॐ इन्द्रमुखाय नम:

6. ॐ श्रीकंठाय नम:

7. ॐ वामदेवाय नम:

8. ॐ तत्पुरुषाय नम:

9. ॐ ईशानाय नम:

10. ॐ अनंतधर्माय नम:

11. ॐ ज्ञानभूताय नम:

12. ॐ अनंतवैराग्यसिंघाय नम:

13. ॐ प्रधानाय नम:

14. ॐ व्योमात्मने नम:

15.
ॐ महाकालाय नम:

16. शिव गायत्री मंत्र : ॐ तत्पुरुषाय विद्महे, महादेवाय धीमहि, तन्नो रूद्र प्रचोदयात्।।

17. ॐ ह्रीं नमः शिवाय ह्रीं ॐ।

18. ॐ नमः शिवाय

19. ॐ ऐं ह्रीं शिव गौरीमय ह्रीं ऐं ऊं।

20. ॐ आशुतोषाय नमः

21. संपूर्ण महामृत्युंजय मंत्र- - ॐ ह्रौं जूं सः। ॐ भूः भुवः स्वः। ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्‌। उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात्‌। स्वः भुवः भूः ॐ। सः जूं ह्रौं ॐ ॥




और भी पढ़ें :