राजस्थान में बारिश का कहर, नदी-नालों में आया उफान, रास्ते हुए बंद

पुनः संशोधित मंगलवार, 27 जुलाई 2021 (17:09 IST)
जयपुर। इन दिनों के कई इलाकों में जमकर मेहरबान हो रहा है। जयपुर और हनुमागढ़ समेत प्रदेश के कई इलाकों में जोरदार हुई।
मध्यप्रदेश में हो रही भारी बारिश के बाद इससे सटे झालावाड़ जिले में हुई बारिश से बांधों में जमकर पानी आ रहा है। नदियां और नाले उफान पर होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों के कई मार्ग बाधित हो गए हैं। मानसून अभी सक्रिय है और आगामी 24 घंटे में राज्य के अनेक हिस्सों में भारी से अति भारी बारिश का अनुमान है।
पिछले 24 घंटे में राज्य के पूर्वी हिस्सों में और पश्चिमी भागों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई। के अनुसार, बारां, झालावाड़, कोटा, प्रतापगढ़, भरतपुर, अलवर, करौली और जयपुर के कुछ इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश दर्ज की गई, जिसमें बारां के छबड़ा में कल से मंगलवार सुबह तक अधिकतम 22 सेंटीमीटर बारिश हुई। अटरु (बारां) में 12 सेमी जबकि गंगाधर (झालावाड़) और सांगोद (कोटा) में 11 सेमी बारिश हुई। कई अन्य स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई। दक्षिण-पश्चिम मानसून मंगलवार को भी राज्य के अधिकांश हिस्सों में सक्रिय है और अलवर, करौली तथा सवाईमाधोपुर जिलों में एक या दो स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।
उल्लेखनीय है कि दक्षिण पश्चिम मानसून 13 जुलाई को अपने सामान्य समय से पांच दिन की देरी से समूचे राजस्थान में पहुंचा था। वहीं, राज्य के कुल 727 बांधों में से केवल 13 ही पूरी तरह से भरे हुए हैं, 228 आंशिक रूप से भरे हुए हैं और 464 खाली हैं। 22 बांधों के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।



और भी पढ़ें :