जम्मू कश्मीर में धूमधाम से मना स्वतंत्रता दिवस, राज्यपाल मलिक बोले- आतंकियों ने मानी हार

Last Updated: गुरुवार, 15 अगस्त 2019 (13:22 IST)
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में गुरुवार को धूमधाम से मनाया गया। ने श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में तिरंगा फहराया और कहा है कि सशस्त्र बलों की सतत कार्रवाई से आतंकवादियों ने हार मान ली है।
जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के बाद यह पहला स्वतंत्रता दिवस है। मलिक ने गुरुवार को ध्वजारोहण के बाद उन्होंने अर्द्धसैनिक बलों और जम्मू-कश्मीर पुलिस की परेड का निरीक्षण किया। बाद में कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि केंद्र के फैसले के बाद लोगों को अपनी पहचान को लेकर चिंतित होने की जरूरत नहीं है।

उन्होंने कहा कि सरकार की नीति आतंकवाद को कतई बर्दाश्त नहीं करने की है और सशस्त्र बलों की सतत कार्रवाई से आतंकवादियों ने हार मान ली है। मलिक ने कहा कि आतंकवादियों की भर्ती और जुमे की नमाज के बाद पथराव की घटनाओं में भारी कमी आई है।
इस बीच संविधान के अनुच्छेद-370 के तहत राज्य को मिला विशेष दर्जा खत्म करने के मद्देनजर यहां प्रतिबंध लागू रहा। जम्मू-कश्मीर प्रशासन के प्रधान सचिव रोहित कंसल ने बताया कि बुधवार को श्रीनगर सहित कश्मीर के विभिन्न हिस्सों में प्रतिबंधों में ढील दी गई, हालांकि घाटी में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए कुछ प्रतिबंध जारी हैं।

अधिकारी ने बताया कि 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के बाद से कश्मीर में शांति बनी हुई है इसलिए सरकार ने कई इलाकों में लागू निषेधाज्ञा में ढील दी है। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :