समीर हिन्दू होते तो नहीं करता बेटी की शादी, वानखेड़े की पहली पत्नी के पिता जाहिद कुरैशी ने कहा

Last Updated: गुरुवार, 28 अक्टूबर 2021 (13:55 IST)
मुंबई। महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता एनसीबी के झोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े को लेकर नित नए खुलासे कर रहे हैं। समीर का निकाहनामा भी मलिक ने सोशल मीडिया में शेयर किया था।

इस बीच, वानखेड़े की पहली पत्नी डॉ. शबानी कुरैशी के पिता डॉ. जाहिद कुरैशी (zahid qureshi) ने एबीपी न्यूज से बातचीत में खुलासा किया है कि यदि वे (समीर) हिन्दू होते तो अपनी बेटी की शादी उनके साथ कतई नहीं करते।

मुंबई क्रूज ड्रग्स केस मामले की जांच कर रहे समीर वानखेड़े की पहली पत्नी के पिता डॉ. जाहिद ने कहा कि समीर जाहिदा से शादी के पहले के सर्टिफिकेट तो दिखा रहे हैं, लेकिन जाहिदा से शादी के बाद के सर्टिफिकेट नहीं दिखा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि दोनों की शादी अरेंज थी, लव मैरिज नहीं थी। जाहिद ने कहा कि शादी से तीन-चार साल पहले से हम एक-दूसरे को जानते थे। हमें पता था कि समीर और उनका पूरा परिवार है। वे हमारे पास मुस्लिम बनकर ही आए थे।

जाहिद ने कहा कि मुझे पता था कि मेरे समधी (समीर के पिता) का नाम दाऊद वानखेड़े है। कुरैशी ने कहा कि उस वक्त समीर वानखेड़े यूपीएससी की तैयारी कर रहे थे और नामज के लिए मस्जिद जाते थे। हालांकि उन्होंने कहा कि उन्हें यह नहीं पता कि कौन से आरक्षण कोटे के तहत समीर ने यूपीएससी में नौकरी पाई।



और भी पढ़ें :